Sachin Pilot

    जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने कोयले की कमी (Coal Crisis) के कारण पैदा हुए बिजली संकट (Power Crisis) के बाद राज्य में चल रही बिजली कटौती पर कहा कि वो उम्मीद करते हैं कि कोई बहुत भारी संकट नहीं आयेगा और बिजली की कटौती और ज्यादा नहीं होगी। पायलट ने सोमवार को टोंक के अरनियामाल गांव में ‘प्रशासन गांवों के संग’ अभियान के तहत आयोजित शिविर में भाग लेने के बाद संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि बिजली के संकट में केन्द्र सरकार भी पूरा सहयोग नहीं कर पा रही है।

    उन्होंने कहा, “चाहे राजस्थान सरकार हो, दिल्ली सरकार या अन्य राज्य, वो कई दिनों से कह रहे है कि ऐसा न हो कि बहुत बड़ा संकट पैदा हो जाये… इसलिये समय रहते हुए हम लोगों ने केन्द्र सरकार को सचेत किया था और वहां से कितना कोल (कोयला) मिल पायेगा.. नहीं मिल पायेगा यह उन पर निर्भर करता है…लेकिन मैं उम्मीद करता हूं कि कोई बहुत भारी संकट नहीं आयेगा और बिजली की कटौती और ज्यादा नहीं होगी।”

    जिले में डीएपी खाद की कमी पर पूछे गये सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि जिले में खाद की कमी को पूरा कर लिया जायेगा। उन्होंने लाभार्थियों को आबादी पट्टा, विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को चेक, रोजगार कार्ड, रोडवेज बस के कार्ड वितरित किये एवं आमजन की समस्या सुनीं। (एजेंसी)