Charanjeet Singh Channi
File Photo

    चंडीगढ़: पंजाब में सियासत को लेकर गरमागरमी चल रही है। इसी बीच पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ( Charanjit Singh Channy) गुरुवार को मोहाली के सिसवां स्थित कैप्टन अमरिंदर सिंह के फार्म हाउस पर मिलने पहुंचे। मुख्यमंत्री बनने के बाद चन्नी की यह कैप्टन से पहली मुलाकात होगी। बता दें कि कैप्टन ने चन्नी के शपथ ग्रहण कार्यक्रम और बेटे की शादी से भी दूरी बना कर रखी थी। 

    बता दें कि एक ओर जहां नवजोत सिंह सिद्धू हाईकमान के सामने आज (गुरुवार) को  पेश होंगे तो वहीं उससे ठीक पहले चन्नी और कैप्टन की मुलाकात की खबरों ने सियासी पारा चढ़ा दिया है। प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू पहली बार हाईकमान से मुलाकात करेंगे। कहा जा रहा है कि इस दौरान पार्टी में सिद्धू के राजनीतिक भविष्य पर भी फैसला हो सकता है।

    ज्ञात हो की मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा देने के बाद कैप्टन ने नवजोत सिंह सिद्धू पर निजी हमला बोला था,  लेकिन उन्होंने मुख्यमंत्री चन्नी की कई मौकों पर तारीफ भी की है। कैप्टन ने चन्नी को बेहतरीन और पढ़ा-लिखा मंत्री बताया था। हालांकि इस दौरान उन्होंने कहा था कि चन्नी को गृह मामलों की समझ कम है।

    इस मुद्दे पर हो सकती है चर्चा

    केंद्र सरकार ने पंजाब समेत तीन राज्यों में बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र को बढ़ा दिया है। पहले अंतरराष्ट्रीय सीमा से 15 किमी के दायरे में बीएसएफ को कार्रवाई की अनुमति थी लेकिन अब यह दायरा 50 किमी कर दिया गया है। जिसके बाद से राज्य में सियासत तेज हो गई है। पंजाब सरकार ने इसे राज्यों के अधिकार क्षेत्र में दखल बताया तो वहीं दूसरी और कैप्टन ने फैसले की तारीफ की  है। बताया जा रहा है की चन्नी कैप्टन से इस मुद्दे पर बातचीत करेंगे।