Compensation to the families of those who lost their lives due to electrocution during the Ram Navami procession in Kota Rajasthan
Photo: @ANI/Twitter

Loading

कोटा (राजस्थान): राजस्थान के कोटा जिला प्रशासन ने रामनवमी की शोभायात्रा के दौरान करंट लगने से मरने वाले तीन लोगों के परिजनों को शुक्रवार को एक-एक लाख रुपये का मुआवजा और संविदा पर नौकरी देने की घोषणा की।

बड़ौदा गांव के निवासी अभिषेक (24), महेंद्र यादव (40) और ललित प्रजापत (23) बृहस्पतिवार को कोतरादित गांव में रामनवमी कार्यक्रम में करतब कर रहे थे। इस दौरान स्टील का चक्र उतारते समय हाईटेंशन तार की चपेट में आने से उनकी मौत हो गई थी।  घटना में चार और लोग घायल हो गए थे। 

मुआवजे की मांग को लेकर राजकीय राजमार्ग-70 पर प्रदर्शन कर रहे मृतकों के परिजनों को सांत्वना देते हुए डीगोड के एसडीएम ने यह घोषणा की। परिजनों ने शवों को अंतिम संस्कार के लिए सीएचसी सुल्तानपुर ले जाने से भी मना कर दिया था। 

अधिकारी ने पीड़ितों के परिजनों को लापरवाही पाए जाने की स्थिति में विद्युत विभाग के अधिकारियों के खिलाफ जांच का आश्वासन दिया। इसके बाद प्रदर्शनकारी अंतिम संस्कार के लिए तैयार हो गए और लगभग दो घंटे के बाद प्रदर्शन खत्म कर दिया।(एजेंसी)