Cyclone Gulab likely to strengthen and move towards Pakistan: Indian Meteorological Department
Representative Photo

    भुवनेश्वर/अमरावती. तमिलनाडु (Tamil Nadu) के कई जिलों में पिछले कई दिनों से बारिश (Rain) ने कहर मचाया है। इसी बीच खबर है कि ओडिशा (Odisha) और आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) में 30 नवंबर से 2 दिसंबर तक भारी बारिश हो सकती है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) (IMD) के मुताबिक दक्षिण अंडमान सागर (South Andaman Sea) के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की बहुत बड़ी संभावना है, जो एक चक्रवात (Cyclone) में बनने की उम्मीद है। यह चक्रवाती तूफान (Cyclonic storm) के ओडिशा और आंध्र प्रदेश को प्रभावित कर सकता है।

    IMD ने कहा “कल (30 नवंबर) तक दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर एक निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। इसके पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और अगले 48 घंटों के दौरान दक्षिण-पूर्व और इससे सटे बंगाल की पूर्व-मध्य खाड़ी पर एक डिप्रेशन में केंद्रित होने की संभावना है।”

    IMD के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने कहा है कि, “ओडिशा में 2 दिसंबर से 5 दिसंबर तक बारिश होने की संभावना है। उन्होंने यह भी कहा है कि दिसंबर के पहले सप्ताह में बंगाल की खाड़ी में चक्रवात आने की संभावना है।”

    उन्होंने कहा कि, “कम दबाव का क्षेत्र और अधिक चिह्नित होने की संभावना है और सिस्टम में बंगाल की खाड़ी में एक चक्रवात का आकार लेने की क्षमता होगी। हालांकि, हम बारिश की तीव्रता और हवा की गति की जानकारी दे सकते हैं। 30 नवंबर को कम दबाव का क्षेत्र बनने जा रहा है।”

    वहीं आईएमडी के वैज्ञानिक आरके जेनामणि ने कहा कि, “अगले कुछ दिनों में दो पश्चिमी विक्षोभ (WD) आएंगे। पिछला WD 23-24 अक्टूबर को आया था। अब यह 2-3 दिसंबर के आसपास आएगा, उत्तर भारत में बारिश होगी। इसके अलावा पहाड़ों पर भी बारिश होगी। हवा भी चलेगी, इसलिए प्रदूषण और स्मॉग की स्थिति में सुधार होगा।

    उन्होंने कहा, “5-6 दिसंबर को एक और पश्चिमी विक्षोभ आएगा, इस दौरान दिल्ली में बारिश होगी। 2 दिसंबर को एनसीआर में एक या दो स्थानों पर बूंदाबांदी हो सकती है। 5-6 दिसंबर को वर्षा की संभावना अधिक है। पहाड़ियों और मैदानी इलाकों में बारिश होगी।”

    उन्होंने कहा, “जहां तक ​​बाकी क्षेत्रों की बात है, कल 30 नवंबर को दक्षिण अंडमान सागर में एक कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है। 2 दिसंबर तक डिप्रेशन रहेगा। इसके कारण ओडिशा और आंध्र प्रदेश में भारी बारिश होगी। हम देख रहे हैं, विवरण जल्द ही सामने आएगा।”

    वैज्ञानिक जेनामणिएक ने आगे कहा, “अन्य प्रणाली, जिसके कारण तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में लंबे समय तक बारिश हुई, आज से कम होने लगी। हमने 1 दिसंबर के लिए गुजरात के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। कोंकण, मध्य महाराष्ट्र में भी होगी भारी बारिश, मुंबई में भी 1-2 दिसंबर को कम बारिश।”