asani
Pic: Twitter

    भुवनेश्वर. सुबह की बड़ी  खबर के अनुसार बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवात ‘असानी’ अब गंभीर रूप में बदल चुका है। हालांकि इसकी चाल पहले की तुलना में अब और भी कमजोर हुई है लेकिन इसका अभी भी खतरा अभी टला नहीं है। इधर इस तूफान के चलते ओडिशा, बंगाल और आंध्र प्रदेश में भारी बारिश की आशंका बनी हुई है और इसलिए यहां की अलर्ट जारी है। वहीं ओडिशा सरकार ने 18 जिलों में NDRAF की 17 और ODRAF की 20 टीमों की तैनाती की गई है।

    आज भी चक्रवाती तूफान का दिखेगा असर

    इधर मौसम विभाग के अनुसार आज यानी सोमवार को ओडिशा के समुद्री तट की तरफ बढ़ रहे चक्रवाती तूफान ‘असानी’ की गति कुछ धीमी पड़ी है। लेकिन इसके तट तक पहुंचने पर चक्रवाती हवा की रफ्तार 115 किमी प्रति घंटा की रफ्तार पकड़ सकती है और इससे तटवर्ती इलाकों में भारी तबाही भी हो सकती है। 

    इन राज्यों में चक्रवात ‘असानी’  मचा सकता है तबाही

    बता दें कि आगामी 10-13 मई के दौरान अरुणाचल प्रदेश और असम-मेघालय और 09-13 मई के दौरान नागालैंड-मणिपुर-मिजोरम-त्रिपुरा में भारी बारिश की संभावना है। तो वहीं 11-13 मई के दौरान असम-मेघालय में भी बहुत भारी वर्षा की संभावना है। आगामी 10 मई को तटीय आंध्र प्रदेश के अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा की संभावना है। वहीं 10 मई की शाम से तटीय ओडिशा में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश होगी।

    इधर आगामी 12 मई को ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है और इस प्रकार अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश की भी संभावना है।