tudu

    नई दिल्ली/बारीपदा. दोपहर की एक बड़ी खबर के अनुसार, एक दैनिक रिव्यू मीटिंग के दौरान मोदी सरकार के केंद्रीय मंत्री बिस्वेश्वर टुडू (Union Minister Bishweswar Tudu) पर अधिकारियों पर किसी बात को लेकर भड़कने और फिर उन्हें बंद कमरे में बुरी तरह पीटने का आरोप लगा है, इस घटना में उएक अधिकारी का हांथ फ्रैक्चर हो गया है। फिलहाल अधिकारियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

    क्या है आरोप 

    दरअसल यह मामला केंद्रीय मंत्री बिस्वेश्वर टुडू के गृह नगर ओडिशा के बारीपदा की है। पता हो कि बिस्वेश्वर टुडू मोदी सरकार के आदिवासी मामलों के और जल शक्ति राज्य मंत्री हैं।साथ ही BJP के सांसद भी हैं और पिछले साल जुलाई में कैबिनेट पुनर्गठन के दौरान खुद PM मोदी ने उन्हें राज्य मंत्री बनाया था।

    अब इन्ही केंद्रीय मंत्री बिस्वेश्वर टुडू पर आरोप है कि उन्होंने रिव्यू मीटिंग के दौरान अपने दो अधिकारियों को जमकर धुना है। जिसमें से एक अधिकारी देबाशीष महापात्रा का हाथ भी टूट गया है है। जबकि अश्विनी कुमार मलिक को कुछ चोटें आई है। फिलहाल दोनों अधिकारियों को बारीपदा के पीआरएम मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है।

    ये घटना बीते शुक्रवार की है जिसके  मुताबिक केंद्रीय मंत्री बिस्वेश्वर टुडू ने अपने ऑफिस में एक बैठक बुलाई थी। इस बैठक में District Planning and Monitoring Unit के उप-निदेशक अश्विनी कुमार मलिक और असिस्टेंट डायरेक्टर देबाशीष महापात्रा को बुलाया गया था। वहीं इस घटना बाबत पीड़ितों का आरोप है कि रिव्यू मीटिंग के दौरान केंद्रीय मंत्री बिस्वेश्वर टुडू किसी बात को लेकर बहुत उग्र हो गए और उन्होंने अंदर से दरवाजा बंद कर दोनों अफसरों पर कुर्सी से हमला कर दिया।

    क्या कहते हैं बिस्वेश्वर टुडू

    घटना कि गंभीरता को देखते हुए केंद्रीय मंत्री बिस्वेश्वर टुडू के खिलाफ दो सरकारी अधिकारियों द्वारा दर्ज की गई शिकायत के आधार पर बारीपदा टाउन पुलिस स्टेशन में IPC की धारा 323, 325, 294 और 506 के तहत मामला भी दर्ज किया गया है।

    इधर अपने बचाव में केंद्रीय मंत्री बिस्वेश्वर टुडू ने कहा कि,  “मैंने उनसे फाइलों के साथ आने के लिए कहा कि केंद्र सरकार द्वारा दिए गए 7 करोड़ रुपये कैसे खर्च किए गए, अब वे उक्ते मुझ पर ही बेबुनियाद आरोप लगा रहे हैं, अगर मैंने उन्हें पीटा होता, तो क्या वे मेरे कार्यालय से वापस भी लौट पाते।” फिलहाल मामले कि जांच चल रही है।