भक्तों की अद्भुत भक्ति: 10 से लेकर 2000 के नोटों से सजाया मंदिर, 5.16 करोड़ की हुई सजावट

    हैदराबाद: देशभर में नवरात्रि (Navratri 2021) की धूम देखने मिलती है। हर जगह के माता रानी (Mata Rani) के मंदिर (Mata Mandir) को बेहद खूबसूरत अंदाज़ में सजाया जाता है। बहुत से ऐसे मंदिर भी होते हैं, जिनकी सजावट थीम (Temple Theme Decoration) के हिसाब से की जाती है, लेकिन आज हम आपको जिस मंदिर के बारे में बता रहे हैं, उसकी बात ही निराली है। माता रानी के इस मंदिर को नोटों (Decoration By Currency) से सजाया जाता है। यहां 500-1000 नहीं बल्कि पूरे 5.16 करोड़ की नोटों से सजाया गया है। यह अपने आप में अनोखा है। 

    आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) के नेल्लोर स्थित कन्याका परमेश्वरी मंदिर (Kanyaka Parameswari Temple) को दशहरे (Dussehra 2021) के अवसर पर 5 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य की करेंसी से सजाया गया है। इस मंदिर में साल के अलग-अलग समय पर देवी के विभिन्न रूपों की पूजा की जाती है।

    नौ दिवसीय नवरात्रि में माता रानी को धन की देवी धनलक्ष्मी (Dhanlaxmi Mata) के रूप में पूजा जाता है और उनकी अर्चना की जाती है। इसलिए इस अवसर पर पूरे मंदिर की सजावट रुपयों से कि जाती है। 100 से अधिक स्वयंसेवकों ने 5 करोड़ और 16 लाख (Kanyaka Parameswari Temple Decoration By Currency) रुपये के कुल मूल्य के करेंसी नोटों के साथ मंदिर को सजाने के लिए लंबे समय तक काम किया है।

    मंदिर के इस सजावट के लिए 2,000 रुपये, 500 रुपये, 200 रुपये, 100 रुपये, 50 रुपये और 10 रुपये के नोटों का इस्तेमाल किया गया है। ज्ञात हो कि, चार साल पहले 11 करोड़ रुपये की लागत से पुराने कन्याका परमेश्वरी मंदिर का जीर्णोद्धार किया गया था। तभी से नवरात्रि-दशहरा समारोह हर साल इसी तरह आयोजित किया जाता है। इस साल भी बहुत इस मंदिर में धूमधाम से यह त्योहार मनाया जा रहा है। नेल्लोर शहरी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष मुक्कला द्वारकानाथ घटनाओं ने बताया कि, माता रानी को सुशोभित करने के लिए 7 किलोग्राम सोना और 60 किलोग्राम चांदी का उपयोग किया जाता है।