CM Hemant Soren got an invitation to come to Chhattisgarh to attend the National Tribal Dance Festival

    -ओमप्रकाश मिश्र 

    रांची : “राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव 2021” (National Tribal Dance Festival 2021) में सम्मिलित होने के लिए झारखंड (Jharkhand) के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) को छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel) ने आमंत्रित किया हैI सीएम भूपेश बघेल ने पत्र के माध्यम से आगामी 28 अक्टूबर से 1 नवंबर 2021 तक छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा आयोजित राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव में हेमंत सोरेन को शामिल होने का आग्रह किया हैI विधायक एवं संसदीय सचिव छत्तीसगढ़ शासन विनोद चंद्राकर ने कांके रोड रांची स्थित मुख्यमंत्री आवासीय कार्यालय में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मुलाकात की और उक्त कार्यक्रम में सम्मिलित होने के लिए आमंत्रण पत्र दिया। 

    विधायक एवं संसदीय सचिव छत्तीसगढ़ शासन विनोद चंद्राकर ने मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि छत्तीसगढ़ में देश और विश्व की सबसे प्राचीन आदिम सभ्यताएं आज भी जीवित हैं। इन सभ्यताओं के संरक्षण और उनके मूल स्वरूप को अक्षुण्ण बनाए रखने की दिशा में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा कार्य किए जा रहे हैं। आदिवासी संस्कृति, लोक नृत्य, और लोक संगीत और लोक कलाओं को भी बढ़ावा दिया जा रहा है। इसी कड़ी में आगामी 28 अक्टूबर से 1 नवंबर 2021 तक छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा “राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव 2021” का आयोजन किया जा रहा है। इस महोत्सव में झारखंड सहित देश के विभिन्न राज्यों से पहुंचे आदिवासी लोक गीत-संगीत और  नृत्य क्षेत्र के कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी जाएगी। 

    विधायक विनोद चंद्राकर ने मुख्यमंत्री से कहा कि आपके गरिमामयी आगमन से छत्तीसगढ़ की धरा में आयोजित इस महोत्सव की शोभा बढ़ेगी। इस अवसर पर विनोद चंद्राकर, संसदीय सचिव छत्तीसगढ़ शासन के द्वारा मुख्यमंत्री  हेमन्त सोरेन को छत्तीसगढ़ के प्रसिद्ध आदिवासी लोक शिल्प बस्तर आर्ट से बनी स्मृति चिन्ह भेंट की। मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने विनोद चंद्राकर का आभार व्यक्त करते हुए महोत्सव के सफल आयोजन के लिए छत्तीसगढ़ सरकार को अग्रिम शुभकामनाएं भी दीं। मौके पर मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव  राजीव अरुण एक्का, राज्य प्रशासनिक सेवा छत्तीसगढ़ के अधिकारी  राकेश कुमार गोलछा एवं अन्य लोग  मौजूद थे।