Jharkhand police arrested Maoist, arms also recovered

    ओमप्रकाश मिश्र 

    रांची. झारखंड पुलिस (Jharkhand Police) की सक्रियता के जाल में भाकपा माओवादी (Maoist) राजेश गंझू फंस गया, झारखंड पुलिस इसे बड़ी कामयाबी बता रही है। झारखंड के हजारीबाग जिला पुलिस प्रशासन को गुप्त सुचना मिली इस सुचना के आधार पर हजारीबाग पुलिस (Hazaribagh Police) ने चारो तरफ से घेराबंदी कर राजेश को धर दबोचा। 

    पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, पुलिस को मिली गुप्त सूचना पर झारखंड पुलिस और सीआरपीएफ (CRPF) की 22/बीएन बटालियन चरही थाना क्षेत्र के बहेरा तालाब के पास के छापेमारी अभियान चलाया। इस अभियान में भाकपा माओवादी के एक सदस्य राजेश गंझु उर्फ बिपुल गंझु को गिरफ्तार किया गया है। इसके पास से प्वाइंट 315 बोर का एक राइफल और प्वाइंट 315 बोर का 9 जिंदा कारतूस बरामद किया गया है। गिरफ्तार उग्रवादी और बरामद हथियार को चरही थाना के सुपुर्द कर दिया गया है।

    तीन दिनों से सीआरपीएफ की टीम छापेमारी अभियान में लगी हुई थी

    सीआरपीएफ की टीम तीन दिनों से इस छापेमारी अभियान में लगी हुई थी। खोजी कुत्ते की मदद से हथियार को बरामद किया गया है। पुलिस ने बताया कि पुलिस की सक्रियता से ही पिछले महीने 25 लाख का एक और इनामी नक्सली को गिरफ्तार किया गया थाI हजारीबाग पुलिस ने भाकपा माओवादी कमांडर प्रदुमन शर्मा को गिरफ्तार किया था। इसकी गिरफ्तारी झारखंड के हजारीबाग जिले के चौपारण थाना क्षेत्र से की गई थी। नक्‍सली प्रदुमन पर 25 लाख रुपये का इनाम था।