PM-narendra-modi
File Pic

    इंफाल: असम के चूड़ाचंद्रपुर में असम राइफल की काफिले पर बड़ा हमला हुआ है। उग्रवादियों ने घात लगाकर सेना की गाड़ियों पर हमला किया, इस हमले में चार जवान सहित पांच लोगों की मौत हो गई है। सेना के सीओ विप्लव त्रिपाठी सहित उनकी पत्नी और आठ साल के बेटे की भी मौत इस हमले में हुई है। सेना पर किये इस कायराना हमले की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने निंदा की है।  

    प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट में लिखा, “मणिपुर में असम राइफल्स के काफिले पर हुए हमले की कड़ी निंदा करते हैं। मैं उन सैनिकों और परिवार के सदस्यों को श्रद्धांजलि देता हूं जो आज शहीद हुए हैं। उनके बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा। दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं।”

    दोषियों को न्याय के कटघरे में खड़ा किया जाएगा

    सेना पर घात लगाकर हुए इस हमले की रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी कड़ी निंदा की है। उन्होंने लिखा, “मणिपुर के चुराचांदपुर में असम राइफल्स के काफिले पर कायराना हमला बेहद दर्दनाक और निंदनीय है। देश ने सीओ 46 एआर और परिवार के दो सदस्यों सहित 5 बहादुर सैनिकों को खो दिया है। शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं। जल्द ही दोषियों को न्याय के कटघरे में खड़ा किया जाएगा।”

    ज्ञात हो कि, कमांडर ऑफिसर विप्लव त्रिपाठी के काफिले पर हमला उस समय हुआ जब वह बेस कैप से मुख्यालय की तरफ आ रहे थे। सेना के अधिकारी से मिली जानकारी के अनुसार, 46 असम राइफल्स के कमांडिंग अधिकारी कर्नल विप्लव त्रिपाठी के काफिले पर उपद्रवियों ने पहले आईईडी से हमला किया, फिर अंधाधुंध गोलियां चलाई। जिसमें चार सेना के अधिकारी और सीओ त्रिपाठी की पत्नी और बच्चे की मौत हो गई। वहीं अन्य चार जवान घायल हुए हैं।