(Image-AIN)
(Image-AIN)

    तिरुवनंतपुरम: केरल के विभिन्न हिस्सों में लगातार हो रही भारी बारिश के कारण जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। सड़कों पर जलजमाव से बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई है। अनेक लोगों को घर छोड़कर राहत शिविरों में शरण लेनी पड़ी है। वहीं, भारत मौसम विभाग (आईएमडी) ने राज्य के आठ जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। आईएमडी ने बृहस्पतिवार को राज्य के पथनमथितट्टा, अलाप्पुझा, कोट्टायम, एर्णाकुलम, इडुक्की, त्रिशूर, पलक्कड और कन्नूर समेत आठ जिलों में रेड अलर्ट घोषित किया है।

    जबकि तिरुवनंतपुरम को छोड़कर शेष जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। राजधानी तिरुवनंतपुरम में येलो अलर्ट जारी किया गया है। रेल अलर्ट भीषण बारिश (24 घंटों में 20 सेंटीमीटर बारिश), ऑरेंज अलर्ट बहुत भारी बारिश (6 से 20 सेंटीमीटर) और येलो अलर्ट भारी बारिश का सूचक है।  राज्य में खराब मौसम के कारण पथनमतिट्टा जिले में पम्पा, मणिमाला और अचनकोविल जैसी विभिन्न नदियों का जल स्तर खतरे के निशान के करीब या उसे (निशान को) पार कर गया है।

    पठानमतिट्टा जिले के अधिकारियों के मुताबिक भूस्खलन और बाढ़ की आशंका के चलते कई परिवारों को राहत शिविरों में स्थानांतरित कर दिया गया है। इस बीच, जिले के अधिकारियों ने कहा कि इडुक्की में मलंकरा बांध के छह शटर सुबह छह बजे 100 सेंटीमीटर ऊपर उठा दिए गए। इदुक्की जिले के अधिकारियों के अनुसार मुल्लापेरियार बांध में सुबह 11 बजे जल स्तर 135.35 फुट था। इस बीच, आईएमडी ने केरल के कई क्षेत्रों में चार से आठ अगस्त तक बारिश होने की संभावना जताई है। (एजेंसी)