former Manipur CM and Congress leader Okram Ibobi Singh
ANI Photo

Loading

इंफाल. मणिपुर (Manipur) के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस नेता ओकराम इबोबी सिंह (Okram Ibobi Singh) ने शनिवार को कहा कि आगामी 29 अगस्त को बुलाया जा रहा विधानसभा का एक दिवसीय सत्र दिखावा मात्र है और यह जनता के हित में नहीं है।

सिंह ने यहां कांग्रेस भवन में पत्रकारों से कहा, “मैंने आज (शनिवार) कार्य मंत्रणा समिति (बीएसी) की बैठक में हिस्सा लिया और मुझे पता चला कि सत्र सिर्फ एक दिन के लिए आयोजित होगा। दो सितंबर से पहले सत्र आयोजित करना संवैधानिक बाध्यता है, इसलिए मंगलवार को सत्र बुलाया गया है।”

उन्होंने कहा, “सदन में एजेंडा, शोक संदेश रहने वाला है। मेरे अनुभव में, जिस दिन शोक संदेश लिया जाता है, उस दिन किसी अन्य विषय पर चर्चा नहीं की जाती है।”

उन्होंने कहा, “समिति के सदस्य के रूप में, मैंने सुझाव दिया कि राज्य में विकट स्थिति पर चर्चा के लिए सत्र कम से कम पांच दिन के लिए आयोजित किया जाना चाहिए। विपक्ष के पास सिर्फ चार या पांच सदस्य हैं। हम यहां सरकार की आलोचना करने के लिए नहीं हैं, बल्कि जनहित के मुद्दों पर चर्चा करने आए हैं।”

सिंह ने कहा कि सरकार द्वारा एक दिवसीय सत्र बुलाना संवैधानिक संकट से बचने के लिए है। उन्होंने कहा, “एक दिन का सत्र आयोजित करना जनहित में नहीं है।” (एजेंसी)