Another step of CM Yogi in women empowerment, "Women Entrepreneurship Website and Helpline Number" launched in Mission Shakti Abhiyan Phase 3

    लखनऊ. राज्य में महिलाओं को सशक्त बनाने के उनके निरंतर प्रयासों के एक और उदाहरण में, उत्तर प्रदेश सरकार ने बुधवार को लखनऊ में मिशन शक्ति – फेज  3 के तहत ‘निर्भया – एक पहल’ कार्यक्रम शुरू किया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस कार्यक्रम में बताया कि 75,000 महिलाएं राज्य के बैंकों से जुड़ेंगी, सस्ती ब्याज दरों पर ऋण प्राप्त करेंगी और 3 महीनों के लिए पीएम मुद्रा योजना के तहत राज्य सब्सिडी का लाभ उठा सकेंगी।

    मिशन शक्ति फेज 3 के कार्यक्रम में सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह और मंत्री चौधरी उदयभान सिंह, अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल कार्यक्रम में मौजूद थे। मिशन शक्ति अभियान कार्यक्रम में सीएम योगी आदित्यनाथ ने महिला उद्यमिता वेबसाइट और हेल्पलाइन लांच किया जिससे महिलाओं को उद्यम से सम्बंधित जानकारी मिल सके। साथ ही कौशल विकास प्रशिक्षण किट का सीएम योगी ने किया लोकार्पण जिससे प्रदेश की 75000 महिलाओं को मिलेगा लाभ।

    महिलाओं की सुरक्षा और स्वावलंबन हमारा लक्ष्य

    सीएम योगी ने निर्भया एक पहल के तहत कार्यक्रम की सभी को बधाई दी और कहा कि महिलाओं की सुरक्षा और स्वावलंबन हमारा लक्ष्य था। सभी विभाग अपने अपने स्तर पर महिलाओं के लिए कार्य करें। साथ ही पुलिस, महिला एवं बाल विकास, ग्रामीण विकास विभाग, एमएसएमई भी इसमें जुड़े। अगले 3 महीनों में प्रधानमंत्री मुद्रा योजना से महिलाओं को लाभान्वित कराया जाएगा सीएम योगी आदित्यनाथ ने कार्यक्रम के दौरान कहा। 75 जिलों के ओडीओपी प्रॉडक्ट्स को बढ़ावा देने का कार्य करें सभी विभाग। कोरोना को हम प्रदेश भर में नियंत्रित किए हुए हैं

    महिलाओं के स्वावलंबन से परिवार आत्मनिर्भर होगा

    सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि एक नारी अकेले नहीं होती समाज को एक दिशा देने का आधार होती है। एक जनपद एक उत्पाद की ट्रेनिंग होनी चाहिए। पुरुषों से बेहतर गारमेंट्स का कार्य महिलाएं कर सकती हैं। वहीं नवनीत सहगल ने कहा कि प्रदेश भर में महिलाओं को उद्यम से जोड़ने के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा। महिलाओं के स्वावलंबन से परिवार आत्मनिर्भर होगा। साथ ही प्रदेश के सभी जिलों में ओडीओपी के तहत भी कार्यक्रम होंगे।