gun
File Photo

    अयोध्या. एक बड़ी और खाफ्नाक खबर के अनुसार, उत्तर प्रदेश के अयोध्या (Ayodhya) में बीते बुधवार रात दुर्गा पूजा (Durga Puja) के दौरान एक जागरण में फायरिंग (Firing) की घटना से अब चारों तरफ हड़कंप मच गया। जी हाँ बताया जा रहा है कि, चार युवकों ने इस फायरिंग की घटना को अंजाम दिया है। वहीं हमले में एक शख्स की मौत हो गई है, वहीं उसकी दो बच्चियां बुरी तरह से घायल हैं।

    बताया जा रहा है कि मरने वाले शख्स का नाम मंजीत यादव है। इसके साथ ही मौके पर मौजूद लोगों ने फायरिंग करने वाले एक युवक को पकड़ लिया है, जबकि उसके 3 साथी फरार हैं। उक्त खौफनाक घटना कोतवाली नगर के कोरखाना नील गोदाम के पास की है। वहीं हमले में घायल दोनों बच्चियों का जिला अस्प्ताल में इलाज चल रहा है। उधर घटना से परिवार में भी भयंकर कोहराम मच गया है।

    इस घटना की सूचना के बाद से पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया और सकते में है। वहीं मौके पर तमाम बड़े अधिकारी पहुंच गए और पूछताछ भी चल रही है। वहीं देर रात फायरिंग में घायल दोनों बच्चियों को नाजुक हालत में लखनऊ ट्रामा सेंटर में रेफर कर दिया गया है। मामले की गंभीरता को देखते हो अब जांच के लिए SSP शैलेश पांडेय ने 4 टीम गठित की है। वहीं पकड़े गए एक हमलावर से पुलिस पूछताछ भी कर रही है। पुलिस ने हमलावरों के वाहन भी बरामद कर लिए हैं। पता चला है कि तीनों हमलावर वाहन छोड़कर फरार हो चुके हैं।

    प्रथम दृष्टया मामला आपसी विवाद का : SSP

    इधर घटना पर SSP शैलेश पांडे का कहना है कि फायरिंग का दुर्गा पूजा से कोई भी लेना देना नहीं है। पंडाल से दूर घर के बाहर यह जघन्य वारदात हुई है। यही नहीं प्रथम दृष्टया ये रंजिश का मामला लग रहा है। वहीं रंजिश को लेकर इसी एंगल पर तहकीकात चल रही है। वहीं घटना के मौके से 5 वाहन बरामद किए गए हैं। इनकी शिनाख्त की जा रही है। इसमें एक हमलावर पकड़ा गया है, उससे भी पूछताछ चल रही है।

    मृतक के परिवार को मिले 1 करोड़ मुआवजा: सपा

    वहीं इस घटना के बाद अब सियासी घमासान भी तेज हो गई है। जिला अस्पताल पहुंचे सपा नेता व पूर्व राज्यमंत्री पवन पांडे ने कहा कि, अयोध्या-फैजाबाद दुर्गा पूजा मना रहा है और यहाँ अपराधी चारो तरफ फायरिंग कर रहे हैं। इसके साथ ही पवन पांडे ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि योगी सरकार में अपराधियों का मनोबल बगुत ज्यादा बढ़ा है। उन्होंने मृतक के परिजनों को एक करोड़ रुपये मुआवजा देने की भी मांग की है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि, दोनों बच्चियों की समुचित इलाज की व्यवस्था हो और साथ ही हमलावरों की जल्द गिरफ्तारी भी हो जाए।