yashveer-singh
Pic: Social Media

    मेरठ (उप्र).उत्तर प्रदेश में मैनपुरी संसदीय सीट और रामपुर एवं खतौली विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के बीच राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के वरिष्ठ नेता व पूर्व क्षेत्रीय अध्यक्ष चौधरी यशवीर सिंह (Chaudhary Yashveer Singh) ने अपनी पार्टी छोड़कर भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सदस्यता ग्रहण कर ली है। सिंह ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह चौधरी की मौजूदगी में अपने समर्थकों के साथ पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।

    यशवीर सिंह के अलावा मोदीनगर के पूर्व विधायक सुदेश शर्मा, क्षेत्रीय संगठन मंत्री भोपाल गुर्जर, अभिषेक चौधरी गुर्जर, महिला प्रकोष्ठ की क्षेत्रीय अध्यक्ष नेहा सिरोही, अनुसूचित जाति मोर्चा के क्षेत्रीय अध्यक्ष संजय जाटव समेत कई स्थानीय नेताओं ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है। इस मौके पर पार्टी में शामिल हुए नेताओं का स्वागत करते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी ने कहा कि नए नेताओं के भाजपा में शामिल होने से भाजपा को पश्चिमी उत्तर प्रदेश में ताकत मिलेगी। भूपेंद्र चौधरी ने खतौली उप-चुनाव को लेकर कहा कि जनता का आशीर्वाद भाजपा को मिलता रहा है, ‘‘इस बार भी हम ज्यादा वोट से जीतेंगे।”

    चौधरी ने कहा कि भाजपा रामपुर व आजमगढ़ लोकसभा उपचुनाव की भांति ही मैनपुरी लोकसभा तथा रामपुर व खतौली विधानसभा के उपचुनाव बड़े अंतर से जीतेगी। रालोद छोड़कर पार्टी नेताओं के भाजपा में शामिल होने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए राष्ट्रीय लोकदल (सामाजिक न्याय मंच) प्रदेश अध्यक्ष संगीता दौहरे ने कहा कि इन लोगों के जाने से राष्ट्रीय लोकदल पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा क्योंकि इनका खुद का क्षेत्र के अंदर कोई जनाधार नहीं है।

    उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय लोकदल मजबूत थी और मजबूत रहेगी। वहीं रालोद के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी सुरेन्द्र शर्मा ने रालोद नेताओं के भाजपा में जाने के सवाल पर कहा कि आज का दौर राजनीति में चुनौतियों से भरा है। उन्होंने कहा कि वे लोग पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल हो रहे हैं जिनमें चुनौतियों से लड़ने का साहस नहीं है।

    समाजवादी पार्टी (सपा) के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के निधन के चलते मैनपुरी संसदीय सीट पर उपचुनाव कराया जा रहा है जबकि रामपुर विधानसभा क्षेत्र में सपा नेता आजम खान और खतौली विधानसभा क्षेत्र में भारतीय जनता पार्टी के विक्रम सैनी को अदालत से सजा सुनाए जाने के बाद उनकी सदस्यता निरस्त किये जाने के बाद उपचुनाव हो रहा है। इन सीटों पर पांच दिसंबर को मतदान तथा आठ दिसंबर को मतगणना होगी। राष्‍ट्रीय लोकदल का समाजवादी पार्टी से गठबंधन है।