लखनऊ पुलिस की सबसे बड़ी कार्रवाई, 250 करोड़ से अधिक की संपत्ति की जब्त, जानें पूरा मामला

    लखनऊ: उत्तर प्रदेश के राजधानी लखनऊ में पुलिस ने सबसे बड़ी अवैध संपत्ति जब्त की है। कमिश्नरेट पुलिस ने भू माफिया अजमत अली और उसके पुत्र इकबाल अली की अवैध सम्पतियों को जब्त किया है। जब्त की गई संपतियों की कीमत करीब 2,52,58,52,421 रुपये है।

    लखनऊ के मड़ियाव थाना क्षेत्र के घैला गांव में रहने वाला आरोपी अजमत अली एक गरीब घर से था। लेकिन पैसे के लालच ने उसे भू- माफिया बना दिया। साल 1988 आरोपी अजमत अली ने निसार अली नामक शख्श के यहां 1200 प्रति माह पगार से नौकरी करता था। आरोपी ने 1995 में करियर एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट का निर्माण किया। इसी ट्रस्ट का सहारा लेकर आरोपी ने सरकारी जमीनों पर कब्ज़ा करना शुरू किया। आरोपी ने आज तक अपराधीक माध्यम से करीब दो अरब से भी अधिक अवैध संपत्ति पर कब्ज़ा किया था। जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया है।

    इन सभी संपत्ति को जब्त किया गया

    जब्त की गई संपत्ति में कुमार इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज एंड हॉस्पिटल, एमबीबीएस बॉयज होस्टल, करियर पी जी इंस्टीयूट ऑफ डेंटल साइंस एंड हॉस्पिटल, नर्सिंग होम, स्टेडियम, भवन, इंटर्न बॉयज होस्टल, कैम्पस,बीडीएस गर्ल्स होस्टल जैसी कई इमारते जिस पर आरोपी ने अवैध तरीके से कब्ज़ा किया था। साथ ही पुलिस ने आरोपी के विभिन्न खातों को भी सील कर दिया है।

    पुलिस ने बताया कि, मड़ियाव थाने में आरोपी के खिलाफ धारा 420 सहित अन्य धाराओं के आधार पर आठ मामले दर्ज किए है। वहीं आरोपी के पुत्र इकबाल अली के खिलाफ मड़ियाव थाने में पहले से ही तीन मामले दर्ज है।