CM Bhupesh Baghel, who was going to meet Priyanka Gandhi, sat at Lucknow airport in protest, said- I was stopped
Photo:ANI

    लखनऊ (उप्र): लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) में हुई हिंसा को लेकर देशभर में राजनीति गरमा गई है। विपक्ष लगातार सरकार पर ज़ुबानी हमले कर रहा है और गृह राज्य मंत्री के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहा है। मामले में लॉ एंड ऑर्डर बिगड़ने से रोकने के लिए प्रशासन लगातार मुस्तैद है। कई बड़े नेताओं को लखीमपुर खीरी जाने से रोका जा चूका है। सोमवार को समाजवादी पार्टी लीडर अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) और कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) को हिरासत में लिया गया था जिसके बाद छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) मंगलवार को लखनऊ एयरपोर्ट पहुंचे। उन्होंने एयरपोर्ट पर रोके जाने का आरोप लगाया जिसके बाद वह एयरपोर्ट पर ही धरने पर बैठ गए। 

    बता दें कि, एयरपोर्ट पर ज़मीन पर बैठे भूपेश बघेल की तस्वीरें भी सामने आई हैं। इन तस्वीरों में उन्हें पुलिस घेरे हुए दिखाई दे रही है। इससे पहले भूपेश बघेल ने सोमवार को लखीमपुर खीरी जाने की भी इच्छा जताई थी। भूपेश बघेल ने कहा कि, वे सीतापुर जाना चाहते थे लेकिन उन्हें रोक दिया गया। उन्होंने कहा, सोचा था कि, सीतापुर जाकर नेताओं से मिलूंगा, सीतापुर जाकर प्रियंका गांधी से मिलकर वापस चला जाऊंगा। लेकिन ये लोग तो कहीं जाने नहीं दे रहे हैं।

    वहीं दूसरी ओर लखीमपुर जा रही प्रियंका गांधी को सीतापुर पुलिस ने हिरासत में लिया था। उन्हें अब तक पुलिस ने रिहा नहीं किया है। इसी के चलते सीतापुर में गेस्ट हाउस के बाहर कांग्रेस कार्यकर्ता विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। प्रियंका को कल लखीमपुर खीरी जाते समय हिरासत में लिया गया था। कांग्रेस कार्यकर्ता ने कहा कि, हम तबतक नहीं हटेंगे जबतक उन्हें रिहा नहीं कर दिया जाता।