सीएम योगी ने चंदौली को 963.52 करोड़ रुपए की परियोजनाओं की सौगात दी, बोले- चंदौली विकास की प्रक्रिया को निरंतर बनाए रखेगा

    Loading

    चंदौली/लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने चंदौली (Chandauli) में करीब एक हजार करोड़ (963.52 करोड़) की 57 विकास परियोजनाओं (Projects) का लोकार्पण (Inauguration) और शिलान्यास (Foundation Stone) किया। महेंद्र टेक्निकल इंटर कॉलेज चंदौली में हुए कार्यक्रम में सीएम योगी ने कहा कि आज हर एक क्षेत्र में कुछ न कुछ नया हो रहा है। विकास ही जीवन में परिवर्तन ला सकता है। डबल इंजन की सरकार योजनाओं का लाभ बिना भेदभाव के समाज के प्रत्येक तबके तक ले जा रही है। सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास, इन सभी मंत्रों पर चलकर ही हम सर्वांगीण विकास, रामराज्य की अवधारणा को साकार कर पाएंगे। मेरा सबसे आह्वान है कि जनप्रतिनिधियों के नेतृत्व में जो योजनाएं बन रही हैं, उनमें सहभागी बनें। मुझे विश्वास है कि चंदौली विकास की इस प्रक्रिया को निरंतर बनाए रखेगा। इससे पहले मुख्यमंत्री ने विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र भी वितरित किए, जबकि विकास योजनाओं पर आधारित प्रदर्शनी का भी शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री के हाथों से नन्हें-मुन्ने बच्चों का अन्नप्राशन संस्कार भी संपन्न हुआ। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री डॉ. महेंद्र नाथ पांडे समेत प्रदेश सरकार के मंत्री और विधायक उपस्थित रहे। 

    मेडिकल की शिक्षा के साथ मिलेगी विशेषज्ञ स्वास्थ्य सेवा

    हर-हर महादेव के उद्घोष से अपना संबोधन शुरू करने वाले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि चंदौली कृषि उत्पादक जनपद है। खेती-किसानी के कारण इस जनपद की एक पहचान है। जनपद ने अपनी इस पहचान के माध्यम से देश और दुनिया में खुद को और उत्तर प्रदेश को अलग पहचान दी है। अपने स्वयं के पुरुषार्थ से प्रदेश और देश को पुरुषार्थी बनाने का यह अभियान किस कदर आगे बढ़ा कि बाबा कीनाराम और भगवान राम का आशीर्वाद भी इस जनपद को निरंतर प्राप्त हुआ। जब देश के यशस्वी पीएम नरेंद्र मोदी की अनुकंपा से प्रदेश में मेडिकल कॉलेज बनाने की प्रक्रिया प्रारंभ हुई तो बाबा कीनाराम के नाम पर मेडिकल कॉलेज के निर्माण को आगे बढ़ाने का काम हमने किया है। यहां पर आरोग्यता के साथ-साथ विरासत का सम्मान भी मेडिकल कॉलेज के साथ आगे बढ़ रहा है और जब मार्च 2023 में यह मेडिकल कॉलेज बनेगा तो चंदौली के नौजवानों को मेडिकल की शिक्षा के साथ-साथ विशेषज्ञ स्वास्थ्य सेवा के लिए बीएचयू और अन्य संस्थानों पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा। 

    विकास की ऊंचाइयों को छू रहा है चंदौली 

    चंदौली में विकास की गतिविधियों का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आज यहां पर इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट का कार्य हो या आम नागरिक के जीवन में परिवर्तन का कार्यक्रम, हर एक में चंदौली नई ऊंचाई को प्राप्त कर रहा है। आकांक्षात्मक जनपद को सामान्य विकसित जनपदों की तर्ज पर आगे बढ़ाने के रूप में भी चंदौली ने सबसे प्रमुख भूमिका निभाई है और आज आकांक्षात्मक जनपद से सामान्य जनपद की इस पहचान ने चंदौली को नीति आयोग से कई पुरस्कार दिलाए हैं। चंदौली में कई फ्लाईओवर बन रहे हैं। बड़े-बड़े मार्गों का कार्य प्रारंभ हो रहा है। आईटीआई बन रही है। जनपद में अब इजराइल की मदद से इंडो-इजराइल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस फॉर वेजीटेबल का भी निर्माण हो रहा है। आज ही मुझे बलिया में सब्जी उत्पादक संगठनों के द्वारा सब्जियों को विदेशी बाजारों में पहुंचाने के लिए एक्सपोर्ट प्रमोशन सेंटर का फ्लैग ऑफ करने का अवसर मिला। मैं यहां के जिला प्रशासन और जनप्रतिनिधियों से अपील करूंगा कि वो ऐसी व्यवस्था करें कि यहां के एफपीओज के माध्यम से भी हमारे अन्नदाता किसानों के द्वारा सब्जी उत्पादन इस सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के माध्यम से हो और वो दुनिया के बाजार पर छा जाए। 

    चंदौली में हर तबके को मिल रहा योजनाओं का लाभ 

    प्रदेश सरकार के मत्स्य विभाग के द्वारा स्टेट ऑफ द आर्ट होलसेल फिश मार्केट की भी स्वीकृति दी गई है। इसके अंतर्गत लगभग 62 करोड़ की लागत से एक नया मार्केट डेवलप किया जा रहा है जो मत्स्य उत्पादन में यहां के किसानों को आगे बढ़ाने का कार्य करेगा। चंदौली प्रदेश के उन पांच जनपदों में से एक है। जहां मॉडल आईटीआई का निर्माण हो रहा है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि में 2.44 लाख किसानों को इस सुविधा का लाभ प्राप्त हो रहा है और प्रदेश में कृषि क्षेत्र में नवाचार के तहत 2100 हेक्टेयर में 2400 किसानों के द्वारा कालाधान का उत्पादन किया जा रहा है। किसान प्रगति के पथ पर अग्रसर होकर नवाचार की दिशा में आगे बढ़े हैं। आम नागरिक के जीवन में परिवर्तन के लिए पीएम आवास योजना ग्रामीण के तहत 23990 आवास अकेले चंदौली के लिए स्वीकृत हुए। 4662 आवास चंदौली के शहरीकरण के लिए अतिरिक्त स्वीकृत हुए तो मुसहर जाति के लोगों के लिए 2851 आवास मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत अतिरिक्त स्वीकृत किए। प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत 3 लाख 3 हजार 384 गोल्डेन कार्ड अब तक वितरित किए जा चुके हैं। उज्ज्वला योजना के तहत 1 लाख 91 हजार से अधिक परिवारों को निशुल्क एलपीजी कनेक्शन चंदौली में वितरित किए गए हैं। ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत अकेले चंदौली में 10356 समूहों ने 1 लाख 13916 परिवारों को प्रदेश स्तर पर वित्तीय सहायता उपलब्ध कराई है। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत यहां पर 21835 लाभार्थी लाभान्वित हुए हैं। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना में 3322 लाभार्थियों को लाभ मिला है। अकेले चंदौली में 12065 विद्यार्थियों को स्मार्टफोन प्रदान किए गए हैं।