यूपी के फिरोजाबाद में डेंगू-वायरल बुखार से हालात बदतर; अबतक 61 लोगों की गई जान

    लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के फिरोजाबाद (Firozabad) में डेंगू और वायरल बुखार (Dengue-Viral Fever in UP) का कहर लगातार जारी है। खासकर फिरोजाबाद के हालात बहुत खराब हैं। एक तरफ यहां बड़ी तादात में लोग डेंगू और वायरल बुखार की चपेट में आ रहे हैं तो दूसरी तरफ मेडिकल कॉलेज के कर्मचारियों की लापरवाही की शिकायत भी सामने आई है। जिसके चलते डीएम ने सिटी मैजिस्ट्रट को मेडिकल व्यवस्था सुधारने की जिम्मेदारी दी है। जिले में अबतक 61 लोगों की जान चली गई है। 

    ज्ञात हो कि यूपी के फिरोजाबाद जिले में मरीजों की संख्या 450 से अधिक है। साथ ही बड़ी तादात में मरीज दिल्ली और आगरा की तरफ रुखकर इलाज करा रहे हैं। साथ ही बच्चों की सुरक्षा के मद्देनजर कई परिवार गांव छोड़कर चले गए हैं। डेंगू और बुखार का प्रकोप फिरोजाबाद के शहरी और ग्रामीण इलाकों में लगातार अपने पैर पसारते जा रहा है। हालात ऐसे हैं कि बच्चों को यहां सही से इलाज नहीं मिल पा रहा है।

    वहीं फिरोजाबाद में डीएम ने सभी मेडिकल चालकों को डेंगू-बुखार से पीड़ित मरीजों को अधिकृत डॉक्टर की पर्ची पर ही दवाई देने के लिए कहा है। मेडिकल कॉलेज में डेंगू वॉर्ड की व्यवस्थाओं को भी एहतियातन दुरुस्त करने पर काम शुरू है। साथ ही डेंगू वॉर्ड में ओपीडी शुरू हुई है। जिससे मरीजों को थोड़ी राहत मिली है। 

    उन्नाव जिले में भी डेंगू का तांडव-

    दूसरी तरफ यूपी के कानपुर के बाद अब उन्नाव जिले में भी डेंगू का तांडव देखने को मिल रहा है। यहां अबतक 34 मरीज पाए गए हैं। हेल्थ विभाग ने कैंप लगाकर लोगों के नमूने जमा किए हैं। डॉक्टरों का यह भी कहना है कि हर इलाके में साधारण वायरल के मरीज पाए जा रहे हैं। 

    उल्लेखनीय है कि राज्य के कानपुर में भी डेंगू के मामलों की संख्या 100 के पार चली गई है। जिले में डेंगू के कुल 108 मामले दर्ज हुए हैं। जिसमें से ग्रामीण इलाके से 84 और नगरीय से 24 केस सामने आये हैं। हालांकि यहां बुखार के मामले थोड़े कम जरुर हुए हैं। कन्नौज में भी डेंगू के बुधवार को 14 मामले सामने आए हैं।