Photo: @ANI/ Twitter
Photo: @ANI/ Twitter

    उत्तर प्रदेश: मेरठ  (Meerut) के मोहिउद्दीनपुर स्थित चीनी मिल में आग (Sugar Mill Fire) लगी। मिल में यह आग टरबाइन ब्लास्ट होने की वजह से लगी है। आग लगाने की वजह से मौके पर भगदड़ मच गई। सूचना मिलते ही मौके पर दमकल की गाड़ियां पहुंच गई। मिल में आग लगने से लाखों रुपये का सामान जलकर राख हो गया है। घटनास्थल से आग की लपटें उठती नजर आ रही हैं।

    मेरठ के जिला अधिकारी दीपक मीणा ने कहा कि, मिल के टर्बाइन में आग लगी थी। हादसे में एक इंजीनियर की मृत्यु हुई है। करनाल से टीम आ रही है जो जांच करेगी की मिल चालू हो सकता है या नहीं। अगर मिल चालू नहीं हो पाई तो किसानों का गन्ना दूसरे मिल पर ट्रांसफर किया जाएगा। 

    चीनी मिल स्टाफ के अनुसार, शनिवार दोपहर मिल की तीसरी मंजिल पर टरबाइन स्ट्रॉन्ग कंट्रोल रूम में अचानक आग लग गई। शोर सुनकर ग्राउंड फ्लोर पर मौजूद कर्मचारी मिल के मुख्य अभियंता नरेंद्र कुमार कुशवाहा के पास पहुंचे और उन्हें आग लगने की जानकारी दी। नरेंद्र तीसरी मंजिल पर स्थित नियंत्रण कक्ष में पहुंचे और आग बुझाने की कोशिश करने लगे। लेकिन कुछ ही देर में आग ने भीषण रूप धारण कर लिया। इससे तीसरी मंजिल पर मौजूद कर्मचारियों में भगदड़ मच गई। कोई रास्ता न पाकर कई कर्मचारी तीसरी मंजिल से शीशा तोड़कर कूद गए। 

    लेकिन मुख्य अभियंता नरेंद्र कुशवाहा आग के चपेट में निशाने पर आ गए। नरेंद्र ने खुद की जान बचाने के लिए तीसरी मंजिल से छलांग लगाई। मौके पर मौजूद मिल के कर्मचारियों ने पुलिस को सूचना दी। हादसे में घायल सभी लोगों को अस्पताल में पहुंचाया गया। जहां डॉक्टरों ने इंजीनियर नरेंद्र कुशवाहा को मृत घोषित कर दिया।