सीएम योगी आदित्यनाथ (Photo Credits-ANI Twitter)
सीएम योगी आदित्यनाथ (Photo Credits-ANI Twitter)

    लखनऊ/गोरखपुर. समाज के हर जरूरतमंद तक सरकार की लोक कल्याणकारी योजनाओं की पहुंच सुनिश्चित करने के अभियान में जुटे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) की अगुवाई में प्रदेश के सभी 826 ब्लाकों में शनिवार को ‘गरीब कल्याण मेला’ (Garib Kalyan Mela) लगाया गया। गोरखपुर (Gorakhpur) के नवसृजित भरोहिया ब्लॉक (Bharohia Block) में सीएम योगी ने खुद उपस्थित होकर इसका शुभारंभ किया तो अन्य ब्लॉकों पर सरकार के मंत्री, विधायक और अन्य जनप्रतिनिधि मौजूद रहे। गरीब कल्याण मेले में लोगों को न केवल सरकार की लाभार्थीपरक योजनाओं की जानकारी दी गई, बल्कि बड़ी संख्या में जरुरतमंदों को मौके पर ही लाभान्वित भी किया गया। इस अवसर पर स्वास्थ्य जांच व परामर्श की सुविधा उपलब्ध कराने के साथ ही महिलाओं व बच्चों में पुष्टाहार भी वितरित किया गया। 

    गोरखपुर के भरोहिया ब्लॉक में आयोजित गरीब कल्याण मेला में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अपने लोक कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से सरकार हर पीड़ित, हर गरीब के साथ खड़ी है। समाज के अंतिम पायदान के व्यक्ति के उत्थान के लिए केंद्र व प्रदेश की सरकार पूरी प्रतिबद्धता से कार्य कर रही है। प्रदेश के सभी ब्लाकों में एकसाथ आयोजित हो रहा गरीब कल्याण मेला भी उसीकी कड़ी है।

    गरीब उपचार के अभाव में दर-दर भटकने को मजबूर नहीं होना चाहिए

    एकात्म मानववाद और अंत्योदय के प्रणेता पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर भरोहिया स्थित गुरु गोरक्षनाथ विद्यापीठ के परिसर में आयोजित गरीब कल्याण मेला में मुख्यमंत्री ने सरकार की लोक कल्याणकारी योजनाओं से देश, प्रदेश और समाज में आ रही खुशहाली का विस्तार से उल्लेख किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 2019 में लाई गई जन आरोग्य के तहत उत्तर प्रदेश में 6 करोड़ पात्र लोग आयुष्मान गोल्डन कार्ड से सालाना पांच लाख रुपये तक मुफ्त चिकित्सा सेवा के लाभ से आच्छादित हो चुके हैं। ये कार्डधारक सरकारी या इम्पैनल्ड अस्पतालों में निशुल्क इलाज करा सकते हैं। जिन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिल सका है उन्हें मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना में कवर किया जा रहा है। हमारा संकल्प है कि कोई भी गरीब उपचार के अभाव में दर-दर भटकने को मजबूर नहीं होना चाहिए।

    मुख्यमंत्री ने कल्याणकारी योजनाओं की उपलब्धियों से रूबरू कराया 

    गरीब कल्याण मेला में सीएम ने बताया कि सरकार के मिशन गरीब कल्याण के तहत गोरखपुर में 29460 बालिकाओं को सुमंगला योजना से जोड़ा गया है। इस योजना में सरकार की तरफ से बालिका के जन्म से लेकर उसकी स्नातक तक की पढ़ाई के लिए चरणवार 15000 रुपये दिए जाते हैं। गोरखपुर में 68341 निराश्रित महिलाओं को निराश्रित महिला पेंशन का लाभ मिला है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोई भी निराश्रित महिला खुद को असहाय न समझे, इसके लिए कैम्प लगाकर उनके फॉर्म भरवाने के निर्देश दिए गए हैं। इसी तरह गोरखपुर में 26525 दिव्यांगजनों को पेंशन योजना से लाभान्वित किया जा रहा है। दिव्यांगजनों को पेंशन के साथ कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण भी प्रदान किए जाते हैं। 

    गोरखपुर में 244519 महिलाओं को निःशुल्क रसोई गैस कनेक्शन दिए गए

    मुख्यमंत्री में बताया कि उज्ज्वला योजना, जिसके प्रथम चरण का शुभारंभ पीएम मोदी ने बलिया से किया था, के अंतर्गत गोरखपुर में 244519 महिलाओं को निःशुल्क रसोई गैस कनेक्शन दिए गए। उज्ज्वला 2.0 के तहत यहां 19000 नए पात्र चयनित किए गए हैं। सीएम ने महिलाओं व बच्चों के लिए पुष्टाहार योजना की भी जानकारी दी। बताया कि आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से गोरखपुर जिले में 6 माह से 3 वर्ष तक के 133926 बच्चों और 3 से 6 वर्ष तक के 74626 बच्चों को पुष्टाहार दिया गया है। 54417 गर्भवती व धात्री महिलाएं भी पुष्टाहार योजना से लाभान्वित हुई हैं। गोरखपुर में 519129 किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि, 149140 पात्रों को वृद्धावस्था पेंशन का लाभ दिया जा चुका है। जिले में 37451 प्रधानमंत्री आवास योजना के मकानों के निर्माण पूर्ण किया गया है। साथ ही जिले में पीएम आवास योजना में 9228 नए लाभार्थी चयनित किए गए हैं। लोगों को सीएम आवास योजना के अंतर्गत भी मकान दिए जा रहे हैं। स्वच्छ भारत मिशन के तहत गोरखपुर में 224258 व्यक्तिगत शौचालय बनवाए गए हैं। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत जनपद में 14442 समूहों का गठन किया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आप देख सकते हैं कि कैसे इन योजनाओं से गरीब के जीवन में परिवर्तन लाया जा रहा है। 

    सरकार लोक कल्याण को समर्पित और संवेदनशील

    मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि संकटकाल में ही किसी सरकार के काम करने की कसौटी की पहचान होती है। कोरोनाकाल के संकट में पीएम मोदी के नेतृत्व में पूरी दुनिया ने भारत का शानदार प्रबंधन देखा। कोरोना के नियंत्रण में यूपी की सबसे अच्छी भूमिका रही। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में कोरोना के दोनों चरणों में मुफ्त राशन दिया गया। उत्तर प्रदेश के 15 करोड़ लोगों समेत देश के 80 करोड़ लोगों के लिए मुफ्त राशन की व्यवस्था सुनिश्चित की गई। सीएम ने कहा कि संवेदनशील और लोक कल्याण को समर्पित सरकार ही ऐसा कर सकती है। 

    6 अक्टूबर तक पूरे देश में बीस दिवसीय सेवा समर्पण विशेष अभियान

    सीएम योगी ने कहा कि दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सार्वजनिक जीवन के कार्यकाल का 20 वर्ष 7 अक्टूबर को पूरा हो रहा है। इस उपलक्ष्य में उनके योगदान को अविस्मरणीय बनाने के लिए भाजपा पूरे देश में 17 सितंबर से 6 अक्टूबर तक 20 दिवसीय सेवा समर्पण विशेष अभियान चला रही है। अंत्योदय के प्रणेता पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर आयोजित यह गरीब कल्याण मेला भी उसी अभियान का हिस्सा है। उन्होंने पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी और मुख्यमंत्री से लेकर प्रधानमंत्री तक के सफर में सेवाकाल के 20 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वस्थ व सुदीर्घ जीवन की कामना की। 

    महिला की फरियाद पर कैंसर रोगी पति के इलाज को आगे आए सीएम योगी

    भरोहिया में आयोजित गरीब कल्याण मेला में एक महिला ने मुख्यमंत्री से मदद की फरियाद की। उसने सीएम योगी को बताया कि उसका पति कैंसर से पीड़ित है, उपचार कराना चाहती है। सीएम योगी ने उसे आश्वस्त किया कि उसके पति के इलाज में कोई दिक्कत नहीं होने दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने तत्काल अधिकारियों को निर्देशित किया कि पीड़ित का आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनाकर इलाज कराया जाए। यदि उसमें चयनित न हो तो मुख्यमंत्री आरोग्य योजना का लाभ दिलाया जाए। अगर फिर भी कोई दिक्कत आए तो मरीज का इस्टीमेट बनवाकर मुख्यमंत्री राहत कोष भेजा जाए। सीएम ने कहा कि कैंसर जैसी बीमारी में सामान्य व्यक्ति के लिए भारी आथिर्क संकट भी होता है। उन्होंने कहा कि उपचार में कोई संकट नहीं आने दिया जाएगा, भरपूर मदद की जाएगी। 

    सीएम ने बच्चों को खूब दुलारा 

    मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गरीब कल्याण मेला के आयोजन स्थल पर बच्चों का अन्नप्राशन भी कराया। इस दौरान उन्होंने उन्हें खूब प्यार दुलार भी दिया। इसका उल्लेख सीएम योगी ने मंच से भी किया। बताया कि अन्य जगहों पर मास्क के चलते बच्चे डर जाते हैं, लेकिन यहां बच्चे उन्हें देखकर हंस रहे थे। मुख्यमंत्री ने पुष्टाहार योजना के दो लाभार्थियों को मंच पर सम्मानित करने के दौरान उनके साथ आए बच्चों से बात की और उन्हें भी प्यार, आशीर्वाद दिया।  कई योजनाओं के लाभार्थियों को मंच पर मिला मुख्यमंत्री का सानिध्य मंच पर आयुष्मान योजना, उज्ज्वला योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, खाद्य सुरक्षा योजना, बाल पुष्टाहार योजना, पीएम आवास योजना, सीएम आवास योजना, कृषि यंत्र वितरण योजना, किसान क्रेडिट कार्ड, किसान सम्मान निधि, कन्या सुमंगला योजना व स्वच्छ भारत मिशन के शौचालय योजना के दो दो लाभार्थियों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का सानिध्य प्राप्त हुआ। 

    विभिन्न विभागों के स्टालों से दी गई लोक कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी

    प्रदेश के सभी 826 विकास खंडों में आयोजित गरीब कल्याण मेले में विभिन्न विभागों की तरफ से स्टाल लगाकर दिव्यांगजनों को कृत्रिम अंग, वृद्धावस्था, दिव्यांग और निराश्रित पेंशन, पीएम आवास योजना, मुख्यमंत्री आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन योजना के अंतर्गत शौचालय, स्वरोजगार योजनाओ, एनआरएलएम से महिला समूहों के गठन, पीएम किसान सम्मान योजना, पुष्टाहार, जननी सुरक्षा योजना, आयुष्मान भारत योजना, मुख्यमंत्री आरोग्य योजना, उज्ज्वला योजना, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत पात्र परिवारों को राशन कार्ड, सामूहिक विवाह योजना, जाति प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र आदि की जानकारी दी गई। कई लोगों को मौके पर ही योजनाओं का लाभ दिलाया गया। इसके अलावा आरोग्य मेला भी लगाया गया जहां गर्भवती महिलाओं और कुपोषित बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण कर उन्हें पोषाहार और आवश्यक परामर्श दिया गया।