डीएम कौशल राज शर्मा (Photo Credits-ANI Twitter)
डीएम कौशल राज शर्मा (Photo Credits-ANI Twitter)

    नई दिल्ली: ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे (Gyanvapi Masjid Survey) का काम पूरा हो गया है। इन सब के बीच शिवलिंग मिलने का दावा किया जा रहा है। हालांकि इसे लेकर कोई औपचारिक बयान सामने नहीं आया है। इससे पहले सर्वे पूरा होने के बाद हिंदू पक्ष ने दावा किया कि  ज्ञानवापी मस्जिद में मौजूद तालाब रूपी कुएं में शिवलिंग मिला है। लेकिन मुस्लिम पक्ष ने इसे सिरे से खारिज कर दिया है। शिवलिंग मिलने के दावे के मद्देनजर हिंदू पक्ष कोर्ट पहुंच गया है। जिसके बाद कोर्ट ने निर्णय दिया कि जिस जगह पर शिवलिंग मिला है उसे तत्काल सील किया जाए। डीएम ने भी कहा कि सर्वे का काम पूरा हो गया है। रिपोर्ट कोर्ट में 17 मई को पेश की जाएगी।

    ज्ञात हो कि ज्ञानवापी मस्जिद सर्वे पर वाराणसी के जिला मजिस्ट्रेट कौशल राज शर्मा ने कहा कि रिपोर्ट कोर्ट में 17 मई को पेश होगी। आज बहुत संक्षिप्त कार्यवाही होनी थी, वो पूरी हो गई है। वाराणसी के पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने कहा कि शहर में हर थाना स्तर पर लोगों से संवाद करके लोगों के बीच जो भ्रांतियां थी उन्हें दूर किया। ये तीन दिन की कार्रवाई थी, जो आज समाप्त हो गई है। सर्वे आदर्श वातावरण में हुई, जिसमें कानून व्यवस्था की कोई भी स्थिति किसी भी तरीके से प्रभावित नहीं हुई।

    हिंदू पक्ष ने किया शिवलिंग मिलने का दावा-

    उन्होंने कहा कि हमारे द्वारा व्यापक स्तर की सुरक्षा व्यवस्था दी गई थी जिसके कई चरण थे। हम लोगों ने पक्षों के साथ लगातार बैठक की, ये कोर्ट का आदेश था जिसमें सभी के सहयोग की अपेक्षा थी। वैसे ज्ञानवापी में अब सिर्फ 20 लोग ही नमाज के लिए जा सकेंगे। तीन दिन और 10 घंटे में ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे का काम कोर्ट के आदेश के बाद पूरा हुआ है।