DPCC data reveals air pollution remains highest between November 1-15 every year in Delhi
File Photo

नोएडा. राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के नोएडा (Noida), गुरुग्राम (Gurugram) और फरीदाबाद (Faridabad) में प्रदूषण (Pollution) के स्तर में कमी आई है तथा दो हफ्तों के अंतराल के बाद इन शहरों में वायु गुणवत्ता ‘मध्यम’ श्रेणी में दर्ज की गई। एक सरकारी एजेंसी के सोमवार के आंकड़ों के अनुसार ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में वायु गुणवत्ता ‘खराब’ श्रेणी में दर्ज की गई।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) के अनुसार प्रदूषण में कमी आने के बावजूद दिल्ली के पड़ोसी पांच शहरों में प्रदूषण में ‘पीएम 2.5’ और ‘पीएम 10’ का स्तर अब भी अधिक बना हुआ है। सूचकांक के मुताबिक, शून्य से 50 के बीच एक्यूआई को ‘अच्छा’, 51 से 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101 से 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 से 400 के बीच ‘बहुत खराब’ और 401 से 500 के बीच ‘गंभीर’ श्रेणी में माना जाता है।

सीपीसीबी के समीर ऐप के मुताबिक सोमवार को शाम चार बजे तक 24 घंटे का औसत एक्यूआई गाजियाबाद में 243, ग्रेटर नोएडा में 256, नोएडा में 176, फरीदाबाद में 120 और गुरुग्राम में 101 दर्ज किया गया। ऐप के मुताबिक रविवार को गाजियाबाद का एक्यूआई 318, ग्रेटर नोएडा में 332, नोएडा में 322, फरीदाबाद में 303 और गुरुग्राम में 239 दर्ज किया गया था।