अखिलेश यादव (Photo Credits-ANI Twitter)
अखिलेश यादव (Photo Credits-ANI Twitter)

    नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता (Kanpur Businessman Death) की संदिग्ध हालात में मौत को लेकर सूबे का सियासी पारा गरमाया हुआ है। समाजवादी पार्टी ने इस मामले को लेकर बीजेपी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है। इसी कड़ी में आज सूबे के पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी के चीफ अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने मनीष गुप्ता (Manish Gupta) के परिवार से मुलाकात की है। इस दौरान उन्होंने 20 लाख रुपये की आर्थिक मदद देने का भी ऐलान किया है।

    अखिलेश यादव ने कहा कि यूपी में भाजपा की सरकार में पुलिस रक्षा नहीं कर रही, लोगों की जान ले रही है। पुलिस का ऐसा व्यवहार किसी सरकार में देखने को नहीं मिला। हमारी मांग है कि मामले की सिटिंग जज की मॉनिटरिंग में ही जांच हो। दरअसल भारी बवाल के बीच अखिलेश ने मनीष के परिवार से मुलाकात की है। अखिलेश ने कहा कि उनके परिवार की 2 करोड़ रुपये की मदद होनी चाहिए। सरकार को 2 करोड़ रुपये देकर इस परिवार की मदद करनी चाहिए। समाजवादी पार्टी भी अपनी तरफ से इस परिवार की 20 लाख रुपये देकर मदद करेगी।

    अखिलेश यादव की प्रतिक्रिया-

    कानपुर के गोरखपुर के होटल में मनीष गुप्ता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के बाद उनके घर के बाहर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं की भीड़ इकट्ठा हुई थी। पुलिस प्रशासन के साथ सपा कार्यकर्ताओं की झड़प भी हुई।

    वहीं खबर यह भी है कि अखिलेश यादव के जाने के बाद अब मनीष गुप्ता की पत्नी मीनाक्षी सीएम योगी से मिलने के लिए निकल गयी है। गोरखपुर पुलिस की पिटाई से कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता की मौत हो गई थी। आज तड़के प्रशासन से आश्वासन मिलने के बाद मनीष का सुबह अंतिम संस्कार किया गया है।