lok sabha elections 2024 speeches of BJP leaders Akhilesh yadav election results
अखिलेश यादव (फाइल फोटो)

अखिलेश यादव का इशारा प्रधानमंत्री मोदी द्वारा गत रविवार को राजस्थान के बांसवाड़ा और मुख्यमंत्री योगी द्वारा आज अमरोहा में दिये गये भाषण में कांग्रेस के घोषणापत्र का हवाला देते हुए लगाये गये गम्भीर आरोपों की तरफ था। मोदी इन दिनों अपने भाषणों में आरोप लगा रहे हैं कि कांग्रेस देश की जनता की सम्पत्ति पर कब्जा करके उसे लोगों में बांटना चाहती है। मोदी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस और उसका गठबंधन सत्ता में आया तो माताओं और बहनों का मंगलसूत्र भी सुरक्षित नहीं रहेगा। वहीं, योगी ने भी यही आरोप लगाते हुए एक और आरोप लगाया कि कांग्रेस देश में शरिया कानून लागू करना चाहती है।

Loading

अलीगढ़ : समाजवादी पार्टी (SP) अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने हाल ही में हुए लोकसभा के पहले चरण के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (BJP) की हालत खराब होने का दावा करते हुए मंगलवार को कहा कि भाजपा नेताओं के भाषणों से चुनाव परिणामों के रुझान दिखायी देने लगे हैं। उन्होंने कहा कि चुनाव के बाद इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इंक्लूसिव अलायंस (INDIA) की सरकार बनने पर गरीबों को इस वक्त मिल रहा राशन तो मिलेगा ही, साथ-साथ उन्हें पौष्टिक खाद्यान्न सामग्री और मुफ्त में मोबाइल डेटा उपलब्ध कराया जाएगा।

यादव ने अलीगढ़ और हाथरस से ‘इंडिया’ गठबंधन के प्रत्याशियों के समर्थन में आयोजित चुनावी रैली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हालिया चुनावी भाषणों का जिक्र करते हुए कहा, ”वैसे चुनाव के रुझान तो बाद में आते हैं लेकिन अभी दिल्ली वालों का और लखनऊ वालों का भाषण आपने सुना होगा। जो लोग सत्ता से बाहर जाने वाले हैं उनके भाषणों में चुनाव के परिणाम का रुझान दिखाई देने लगा है। हम उनसे कहना चाहते हैं कि अब समय आ गया है कि संविधान की बात हो।”

माना जा रहा है कि अखिलेश का इशारा प्रधानमंत्री मोदी द्वारा गत रविवार को राजस्थान के बांसवाड़ा और मुख्यमंत्री योगी द्वारा आज अमरोहा में दिये गये भाषण में कांग्रेस के घोषणापत्र का हवाला देते हुए लगाये गये गम्भीर आरोपों की तरफ था। मोदी इन दिनों अपने भाषणों में आरोप लगा रहे हैं कि कांग्रेस देश की जनता की सम्पत्ति पर कब्जा करके उसे लोगों में बांटना चाहती है। मोदी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस और उसका गठबंधन सत्ता में आया तो माताओं और बहनों का मंगलसूत्र भी सुरक्षित नहीं रहेगा। वहीं, योगी ने भी यही आरोप लगाते हुए एक और आरोप लगाया कि कांग्रेस देश में शरिया कानून लागू करना चाहती है।

जनसभा के बाद संवाददाताओं से बातचीत में अखिलेश ने अपने बयान को स्पष्ट करते हुए मोदी के मंगलसूत्र वाले बयान के संदर्भ में कहा, ”यह हार का रुझान है। चुनाव खत्म होने के बाद परिणाम के रुझान आते हैं, लेकिन अभी तो चुनाव का पहला चरण खत्म हुआ है और इतने में ही रुझान आने लगे हैं।”उन्होंने कहा, ”प्रधानमंत्री का इस तरह की भाषा का इस्तेमाल करना हमारे लोकतंत्र को कमजोर करता है। चुनाव आयोग को इन चीजों पर रोक लगानी चाहिये।”अखिलेश ने भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तार दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और झारखंड के मुख्यमंत्री अरविंद सोरेन को झूठे मुकदमों में फंसाने का आरोप लगाते हुए कहा, ”जनता अभी भाजपा को ईडी और आयकर का जवाब अपने वोट से दे रही है। अरविंद केजरीवाल और हेमंत सोरेन को झूठा फंसा दिया गया है।”

उन्होंने उत्तर प्रदेश में भाजपा को 80 में से मात्र एक सीट मिलने का दावा करते हुए कहा, ‘‘अभी हमारी जानकारी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में भाजपा को केवल एक सीट पर जीत मिलेगी, जबकि बाकी 79 सीट पर भाजपा हार रही है।” अखिलेश ने कहा कि चाहे उत्तर प्रदेश हो या देश हो, ‘इंडिया’ गठबंधन की चर्चा होने लगी है। उन्होंने कहा कि पश्चिम (पश्चिमी उत्तर प्रदेश) से जो हवा चली है, जो पश्चिम के लोगों ने पहले चरण में मतदान किया है, उसने ऐलान कर दिया है कि भाजपा का इस बार सफाया होने जा रहा है। उन्होंने कहा, ”मैं अलीगढ़ वालों से कहूंगा कि एक ऐसा ताला बनाओ कि हम सब मिलकर भाजपा के नफरत फैलाने के मंसूबों पर हमेशा-हमेशा के लिए ताला लगा दें।”

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने जनता को भाजपा से सावधान रहने की सलाह देते हुए कहा, ”भाजपा वालों से बहुत सावधान रहना है। उनकी जो पहचान बनी है वह झूठ और लूट की है। भाजपा वालों ने अपराधियों और भ्रष्टाचारियों का सबसे बड़ा गोदाम बनवा लिया है। जितने भी अपराधी और भ्रष्टाचारी हैं, सब इनके गोदाम में पहुंच गए हैं।”उन्होंने चुनावी बॉण्ड को लेकर हुए खुलासे के जरिये भाजपा को घेरते हुए कहा, ”जब से चुनावी बॉण्ड की बात सामने आयी है, तब से भाजपा का ‘बैंड बजा’ हुआ है। उनकी बोलती बंद हो गयी है। भाजपा ने गलत तरीके से न जाने कितना चंदा लिया है। भाजपा ने बैंक से भारी कर्ज लेने वाले उद्योगपतियों को देश से भागने में मदद की। बड़े-बड़े उद्योगपतियों का कर्ज माफ कर दिया लेकिन हमारे किसानों का कर्ज माफ नहीं किया।

‘इंडिया’ गठबंधन की सरकार बनने पर किसानों का कर्ज माफ किया जाएगा।” यादव ने कहा, ”यह देश का संविधान बचाने का चुनाव है। भाजपा के लोग जो बड़े-बड़े नारे दे रहे हैं, क्या पता यह कल हमारा और आपका वोट डालने का अधिकार ही छीन लें। संविधान बदल सकते हैं। इनके लोग दबी जुबान से और कभी-कभी खुलेआम भी कह रहे हैं कि वे संविधान बदल देंगे।”सपा अध्यक्ष ने कहा कि वे (भाजपा) जनता की नाराजगी का सामना नहीं कर पाएंगे। इस बार यह 400 पार नहीं बल्कि 400 (सीट) हारने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक तरफ वह लोग हैं जो संविधान की रक्षा करना चाहते हैं और दूसरी तरफ वह लोग हैं जो संविधान को खत्म करना चाहते हैं।

उन्होंने भाजपा पर किसानों के साथ धोखा करने का आरोप लगाते हुए कहा कि 10 साल पहले जो भाजपा का जुमला था, अब वही उनकी गारंटी बन गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा के पिछले 10 साल के शासन में गरीबी और अन्य परेशानियों के कारण एक लाख किसानों ने आत्महत्या की है। सपा अध्यक्ष ने भाजपा सरकारों पर भर्ती परीक्षाओं का प्रश्नपत्र लीक करवाकर नौजवानों का एक-तिहाई जीवन बर्बाद करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि चुनाव के बाद केंद्र में ‘इंडिया’ गठबंधन की सरकार बनने पर अग्निवीर योजना को खत्म करके नौजवानों को फौज में पक्की नौकरी दी जाएगी। अलीगढ़ में लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के तहत आगामी 26 अप्रैल को जबकि हाथरस में तीसरे चरण में सात मई को मतदान होगा।