पीएम मोदी (Photo Credits-ANI Twitter)
पीएम मोदी (Photo Credits-ANI Twitter)

    राजेश मिश्र

    लखनऊ : देश में बीते सात सालों में केंद्रीय योजनाओं ने तीन करोड़ परिवारों को लखपति बनाया है। इस तरह के करीब 15 करोड़ लोग लखपति होने का लाभ पा चुके हैं। तमाम योजनाओं से गांवों (Villages) से लेकर शहरों (Cities) के विकास (Development) की तमाम योजनाओं से लोगों में खुशहाली आई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की राजधानी लखनऊ में आयोजित न्यू अर्बन इंडिया कान्क्लेव (New Urban India Conclave) को मंगलवार को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना से अब तक तीन करोड़ लोगों के घर का सपना पूरा किया गया है। योजना के तहत मकानों की लागत को देखें तो इतने परिवार और इनसे जुड़े करीब 15 करोड़ लोग बीते कुछ सालों में लखपति बन चुके हैं। इन आवासों में से 80 फीसदी महिलाओं के ही नाम पर हैं।

    उन्होनें कहा कि पहले की सरकार में महज 13 लाख आवास इस योजना के तहत बने थे पर हमारी सरकार ने 1.13 करोड़ मकान बना दिए हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए बड़ा काम हुआ है। संपत्ति की रजिस्ट्री में दो फीसदी की छूट महत्वपूर्ण कदम है। उन्होंने कहा कि योगी सरकार में नौ लाख लोग अपने घरों में रहने लगे हैं, जबकि पिछली सरकार में मंजूरी के बाद भी 18000 घर तक नहीं बन सके थे।

     रेरा जैसे कानून घर खरीददारों के लिए खासे मददगार साबित हुए 

    मोदी ने कहा कि रेरा जैसे कानून घर खरीददारों के लिए खासे मददगार साबित हुए हैं। इस कानून ने पूरे हाउसिंग सेक्टर को अविश्वास और धोखाधड़ी से बाहर निकालने में बहुत बड़ी मदद की है। इस मौके पर प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश में 4737 करोड़ रुपए की लागत की 75 विकास परियोजनाओं का लोकापर्ण और शिलान्यास किया गया। प्रधानमंत्री ने डिजिटल तरीके से शहरी गरीब आवास योजना के 75000 लाभार्थियों को उनके घरों की चाभी सौंपी। इस अवसर पर उन्होंने कुछ लाभार्थियों से वर्चुअल संवाद भी किया। प्रधानमंत्री ने स्वच्छ हरित परिवहन की योजना के तहत 75 इलेक्ट्रिक बसों को भी हरी झंडी दिखायी। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में 9 लाख लोग उत्तर प्रदेश में पीएम आवास योजना के मकानों में रहने लगे हैं। एलईडी वितरण कार्यक्रम का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इससे करोड़ों रुपए की बिजली की बचत हो रही है, वहीं शहरों की भव्यता बढ़ी है।

    प्रदेश के चार शहरों में मेट्रो का संचालन: CM योगी

    इस मौके पर बोलते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि केंद्र सरकार की गरीबों की आवास योजना का लाभ उत्तर प्रदेश के 17 लाख लोगों को मिला है और मंगलवार को ही 75000 लोगों को उनके घरों की चाभी सौंपी जा रही है। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश के चार शहरों में मेट्रो का संचालन हो रहा है और इसी साल नवंबर में कानपुर में भी मेट्रो सेवाएं शुरु हो जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि आगरा शहर में भी मेट्रो का काम तेजी से चल रहा है। कुंभ के आयोजन को बड़ी सफलता बताते हुए उन्होंने कहा कि इसे स्वच्छता, सुरक्षा और सुव्यवस्था का नया मॉडल बनाया गया था। योगी ने कहा कि 2017 के पहले प्रदेश में 645 शहरी निकाय थे जिनकी संख्या अब 734 हो चुकी है। इनके जरिए सरकार प्रदेश की बड़ी आबादी को बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध करा रही है।

    उत्तर प्रदेश अब शहरी विकास के मामले में तेजी से आगे बढ़ रहा है 

    केंद्रीय रक्षा मंत्री और लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश अब शहरी विकास के मामले में तेजी से आगे बढ़ रहा है और प्रधानमंत्री न्यू अर्बन इंडिया के लिए मिशन मोड में काम कर रहे हैं। इस मौके पर केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा मौजूद रहे।