Keshav Prasad Maurya

    लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य (Deputy Chief Minister Keshav Prasad Maurya) ने सर्किट हाऊस में मेरठ मंडल की विभिन्न योजनाओ के लोकार्पण और शिलान्यास कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलित कर किया। उन्होंने कहा कि सरकार का लक्ष्य उत्तर प्रदेश का सर्वांगीण विकास करना, सुशासन देना और भयमुक्त व विकासोन्मुख उत्तर प्रदेश बनाना और गुंडों व अपराधियो के विरूद्ध कार्यवाही करना है। उन्होंने कहा कि वर्तमान की केन्द्र और प्रदेश सरकार सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास की नीति पर कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि जब तक डबल इंजन (Double Engine Government) की सरकार नहीं होगी तब तक समग्र विकास नहीं हो सकता। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में मेरठ राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के विकास का केन्द्र बनेगा। उन्होंने बागपत और मेरठ के तीन-तीन मार्गों का नामकरण करने की घोषणा की। इस अवसर पर उन्होंने लोनिवि और सेतु निगम की रू. 10729.66 लाख के कुल 79 कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। 

    उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने मेरठ पुरा महादेव मार्ग के नवीनीकरण का कार्य कराये जाने की भी घोषणा की और इस संबंध में अग्रेत्तर कार्यवाही के लिए लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि मेरठ मंडल के 91 मार्गों का जो कि कुल 305 किमी लंबाई के है और जिसकी लागत  480 करोड़ है, उनका चौडीकरण और सुदृढीकरण का कार्य प्रगति पर है। केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि पिछली बार 1200 करोड़ के कार्यों का लोकार्पण/शिलान्यास किया था आज भी इस लोकार्पण व शिलान्यास की श्रृंखला में लगभग 91 सड़कें है लगभग 305 किमी की लंबाई है और इनकी लागत 480 करोड़ है।

     हमारा लक्ष्य विकास करना, सुशासन देना

    उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य  ने कहा कि मुझे यह बताते हुए भी हर्ष हो रहा कि मेरठ-दिल्ली मार्ग पर मेरठ हापुड़ रेल मार्ग पर जो 4 लेन का उपरिगामी सेतु है उस उपरिगामी सेतु का नामकरण आज उनके द्वारा स्व. अतुल माहेश्वरी उपरिगामी सेतु के रूप में किया गया है। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य विकास करना, सुशासन देना, गुंडों और अपराधियो के विरूद्ध कार्यवाही करना तथा भयमुक्त व विकासोन्मुख उत्तर प्रदेश बनाना है। उन्होंने कहा कि जब तक डबल इंजन की सरकार नहीं होगी तब तक समग्र विकास नहीं हो सकता। 

    बागपत में तीन और मार्गों का नामकरण 

    उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि जनपद बागपत में तीन और मार्गों का नामकरण किया गया है, जिसमें पहला ग्राम जौहड़ी में बिजलीघर के सामने से ग्राम बिजवाडा तक का मार्ग का नामकरण दादी चंद्रो तोमर मार्ग, टांडा-रमाला मार्ग का नामकरण किसानों के नेता चौधरी चरण सिंह मार्ग के रूप में और तीसरा छपरौली से किशनपुर बराल गांगनौली दोघट होते हुये बरनावा मार्ग है उसका नामकरण भी किसान नेता चौधरी महेन्द्र सिंह टिकैत के नाम पर किया गया है। उन्होंने बताया कि इस संबंध में अधिसूचना जारी की जा चुकी है।  उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बताया कि जो पहले सिवाया-दौराला-पनवाडी-लावड संपर्क मार्ग था उसका लोकतंत्र सैनानी मलखान सिंह भारद्वाज के नाम से पहले घोषणा की थी। उन्होंने सिसौली गढ़ रोड़ का नाम देश के लिए बलिदान होने वाले अनिल कुमार तोमर से किये जाने की घोषणा की और कहा कि उसकी प्रक्रिया जितनी जल्दी हो सके और उसको पूरा करने का काम करेंगे। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने नंगली तीर्थ जहां पडता है जहां देश और विदेश से भक्त लोग आते है ऐसे मार्ग का नाम नंगली तीर्थ मार्ग करने की घोषणा की। 

    विकास का केन्द्र मेरठ बनने जा रहा है

    उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि हमारी सरकार का लक्ष्य उत्तर प्रदेश का सर्वांगीण विकास करना है और हम उत्तर प्रदेश के सर्वागीण विकास करने के संकल्प के साथ काम करते है, तो उसमें उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों को केन्द्र में रखा जाता है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के विकास का केन्द्र मेरठ बनने जा रहा है, जिस प्रकार से रैपिल रेल, मैट्रो तथा 14-14 लेन वाला दिल्ली को जोड़ने वाला मार्ग मेरठ और दिल्ली के बीच बनकर तैयार हुआ है उसकी देश, प्रदेश में ही नहीं, दुनिया में भी चर्चा होगी। उन्होंने कहा कि वर्तमान में केन्द्र और प्रदेश सरकार लाभार्थियों के खातो में जितना पैसा भेजती है उतना ही पैसा उनके खातों में जाता है सरकार ने बिचौलियों की व्यवस्था खत्म की और भ्रष्टाचार मुक्त व्यवस्था बनायी।

    मंडल के 79 कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण 

    उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने जनपद मेरठ के  277.25 लाख रु. के 12 कार्यो, बागपत के 326.12 लाख रु. के 16 कार्यों, बुलंदशहर के 595.28 लाख के 30 कार्यों, हापुड के 154.72 लाख के 7 कार्यों और मेरठ क्षेत्र में सेतु निगम के अंतर्गत सेतु कार्य 8318.90 लाख के 1 कार्य का शिलान्यास और जनपद बुलंदशहर में 1057.39 लाख के 13 कार्यों का लोकार्पण किया। इस प्रकार 9672.27 लाख के 66 कार्यों का शिलान्यास और  1057.39 लाख के 1 कार्य का लोकार्पण किया गया। इस प्रकार मंडल के कुल 10729.66 लाख के कुल 79 कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया गया।