Five members of a family including four children died due to lightning in Assam

    सीतापुर: सीतापुर जिले में आकाशीय बिजली गिरने की तीन अलग-अलग घटनाओं में एक दंपति समेत तीन व्यक्तियों की मौत हो गई और अन्य कई घायल हो गये। प्रशासन के एक अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी। उप जिलाधिकारी (एसडीएम) पीएल मौर्य ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि आकाशीय बिजली गिरने की पहली घटना ग्राम सेमरा नगरौली में हुई, जहां खेतों में धान की रोपाई कर रहे संपत (32) और उसकी पत्नी भूला देवी (30) की मौत हो गई और तीन अन्य मजदूर बिजली की चपेट में आने से घायल हो गए।   

    एसडीएम ने बताया कि एक अन्य घटना गांव केवलपुरवा में हुई जहां बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे खड़े संजय (35) और उसकी बेटी शालिनी आकाशीय बिजली की चपेट में आ गए। इस हादसे में संजय की मौत हो गई जबकि बेटी घायल हो गई।उन्होंने बताया कि आकाशीय बिजली गिरने की तीसरी घटना सीपतपुर गांव में हुई, जिसमें 12 वर्षीय वीरेंद्र सहित तीन लोग घायल हो गए।

    मौर्य ने कहा कि घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है और मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। एसडीएम ने बताया कि जिला प्रशासन ने मृतकों के परिजनों को आपदा राहत कोष से चार-चार लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है।   

    उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने आकाशीय बिजली गिरने से होने वाली जनहानि पर गहरा शोक प्रकट किया है।  मुख्यमंत्री कार्यालय ने रविवार को ट्वीट कर यह जानकारी दी। ट्वीट के अनुसार उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने ने सीतापुर जिले में आकाशीय बिजली गिरने की घटनाओं में हुई जनहानि पर गहरा शोक प्रकट किया है। 

    मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्माओं की शांति की कामना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की। एक अन्य ट्वीट में कहा कि ‘मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन के अधिकारियों को आकाशीय बिजली की घटनाओं में झुलसे लोगों का समुचित उपचार कराने के निर्देश दिए हैं।”(एजेंसी)