उत्तर प्रदेश: आगरा के ताजमहल परिसर में नमाज अदा करने के आरोप में चार लोग गिरफ्तार

    उत्तर प्रदेश: सीआईएसएफ (CISF) ने आगरा में ताजमहल (Taj Mahal) घूमने के दौरान नमाज अदा करने के आरोप में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। आगरा सिटी के एसपी विकास कुमार ने बताया कि, CISF ने 6 लोगों को नमाज़ अदा करते देख इनको पकड़ने का प्रयास किया लेकिन 2 लोग भीड़ का फायदा उठाकर भाग निकले।

    उन्होंने यह भी बताया कि, CISF ने इन लोगों को थाना ताजगंज के सुपुर्द किया और CISF की तहरीर पर IPC की धारा 153 में मुकदमा पंजीकृत कर कार्रवाई की जा रही है। पकड़े गए चार व्यक्ति में से तीन व्यक्ति तेलंगाना और एक व्यक्ति उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ से है। 

    सीआईएसएफ द्वारा पकडे गए एक पर्यटक ने बताया कि,  “हम हैदराबाद से हैं। हमने मस्जिद का बोर्ड लगा देखकर नमाज़ पढ़ी। हमने औरों को भी नमाज़ पढ़ते देखा तो हमें लगा कि नमाज़ पढ़ सकते हैं। वहां नमाज़ न पढ़ने को लेकर कुछ नहीं लिखा था।”

     नमाज अदा करना प्रतिबंधित

    सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) ने कहा कि यूनेस्को द्वारा संरक्षित विश्व धरोहर स्थल के परिसर के अंदर शुक्रवार को छोड़कर सभी दिन नमाज अदा करना प्रतिबंधित है।

    केवल शुक्रवार को नमाज की अनुमति

    आगरा सर्कल के अधीक्षण पुरातत्वविद् राज कुमार पटेल ने कहा कि, ताजमहल के मुख्य मकबरे की पश्चिमी दिशा में शाही मस्जिद बनी हुई है। नियमानुसार ताजमहल शुक्रवार को पर्यटकों के लिए बंद रहता है, लेकिन यहां स्थित मस्जिद में नमाज पढ़ने वालों के लिए दोपहर 12 से दो बजे तक स्मारक खुलता है। एएसआई के मुताबिक ताजमहल की मस्जिद में केवल शुक्रवार को नमाज की अनुमति है।