सीएम योगी आदित्यनाथ (Photo Credits-ANI Twitter)
सीएम योगी आदित्यनाथ (Photo Credits-ANI Twitter)

  • 21 चीनी मिलों को बेचकर किसानों-नौजवानों के पेट पर लात मारा था सपा, बसपा की सरकार ने : सीएम योगी
  • देवरिया में मुख्यमंत्री ने दी 200.92 करोड़ रुपये की सौगात
  • 412 विकास परियोजनाओं की का किया शिलान्यास और लोकार्पण

देवरिया : कभी चीनी (Sugar) का कटोरा कहे जाने वाले देवरिया-कुशीनगर (Deoria-Kushinagar) के बेल्ट के लिए मुख्यमंत्री (Chief Minister) योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने रविवार को बड़ी घोषणा की। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार देवरिया-कुशीनगर में नई चीनी मिल (Sugar Mill)  की स्थापना करेगी। इसके लिए गंभीर प्रयास किए जा रहे हैं और देवरिया व कुशीनगर के जिला प्रशासन को जमीन तलाश करने का निर्देश दिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सपा-बसपा की सरकारें चीनी मिलें बेचतीं थीं जबकि भाजपा सरकार पुनर्निर्माण करा रही है। 

सीएम योगी रविवार को देवरिया जिले में भाटपाररानी के बहियारी बघेल स्थित रघुराज सिंह इंटर कॉलेज में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने देवरिया के लोगों को 200.92 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री ने 412 विकास कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण कर देवरिया की प्रगति की रफ्तार को और तेज किया। लोकार्पण और शिलान्यास समारोह में उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने विकास के मुद्दे पर पूर्व की सरकारों को कटघरे में खड़ा किया। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी की सरकारों में प्रदेश की 21 चीनी मिलें बेचकर किसानों और नौजवानों के पेट पर लात मारा गया। आज कल्याण की बात करने वालों को जब शासन का मौका मिला था तब वे दंगा और लूट खसोट करवा रहे थे। 

विकास और गरीबों के बारे में सोचने की फुर्सत ही नहीं थी पूर्व की सरकारों को

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि गरीबों के कल्याण की योजनाएं पहले भी चलाई जा सकती थीं, विकास के ये कार्य पहले भी हो सकते थे। पट, पूर्व की सरकारों को इसके बारे में सोचने की फुर्सत ही कहां थी। तब सूबे के मुखिया जो अपना ही घर भरने से ही फुर्सत नहीं मिलती थी। उन्होंने कहा कि देवरिया और कुशीनगर 2017 के पहले बदनाम होता था कि यहां गरीबों का राशन माफिया खा जाते थे। आज भाजपा सरकार में पारदर्शी तरीके से सबको मुफ्त और पर्याप्त राशन मिल रहा है। 

होली तक मुफ्त राशन के साथ दाल, तेल, चीनी और नमक भी

सीएम ने बताया कि कोरोना काल मे जारी मुफ्त राशन की सुविधा को होली (मार्च 2002) तक विस्तारित कर दिया गया है। इसके तहत अंत्योदय कार्डधारकों को राशन के साथ ही एक किलो दाल, एक किलो खाद्य तेल, एक किलो चीनी और एक किलो नमक भी मुफ्त दिया जाएगा। इसी तरह पात्र गृहस्थी कार्डधारकों को तयशुदा मात्रा में मुफ्त राशन के साथ एक किलो दाल, एक किलो खाद्य तेल और एक किलो नमक फ्री मिलेगा।

देवरिया के मेडिकल कॉलेज में होंगे 700 बेड, मिलेगी उच्च स्तरीय चिकित्सा

मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान 25 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों लोकार्पित देवरिया के महर्षि देवरहा बाबा राजकीय मेडिकल कॉलेज का भी उल्लेख किया। कहा कि देवरिया के लोगों के लिए मेडिकल कॉलेज कभी सपना था। गोरखपुर-बस्ती मंडल में एकमात्र मेडिकल कॉलेज बीआरडी था। सपा-बसपा की सरकारों ने चीनी मिलों की तरह उसे भी बेच दिया होता। आज देवरिया में ही मेडिकल कॉलेज बन गया है। इसी सत्र से यहां प्रवेश भी प्रारंभ होने जा रहे हैं। पूरी तरह से तैयार होने पर इस मेडिकल कॉलेज में 700 बेड के अस्पताल के जरिए उच्च स्तरीय चिकित्सा की सुविधा प्राप्त होगी। 

70 साल में महज 12 और पांच साल में 33 मेडिकल कॉलेज

सीएम योगी ने बताया कि आजादी के बाद 1947 से 2017 तक यानी 70 वर्षों में यूपी में महज 12 मेडिकल कॉलेज खोले गए जबकि पांच वर्ष के भाजपा शासन में 33 नए मेडिकल कॉलेज बनाए जा रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विजन के अनुरूप हर जिले में मेडिकल कॉलेज की स्थापना की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जा रहा है। उन्होंने बताया गया कि बीआरडी मेडिकल कॉलेज गोरखपुर में सुपर सलेशलिटी ब्लॉक शुरू हो गया है जबकि एम्स का लोकार्पण अगले माह पीएम मोदी के हाथों होगा। 

महाभारत के रिश्तों में उलझी हुई थीं पहले की सरकारें

मुख्यमंत्री भाटपाररानी की जनसभा में विपक्षी दलों पर लगातार हमलावर रहे। उन्होंने पूर्व की सरकारों पर तंज कसते हुए कहा कि पहले की सरकारों में महाभारत के सभी रिश्ते थे। चाचा, भतीजा थे तो बुआ भी थीं। वे इन रिश्तों के उलझन में जनता के हकों पर डकैती डालने में लगे रहते थे। 

जनता की सेवा के समय होम आइसोलेशन में रहे विपक्ष के नेता

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना में पूरे विश्व मे उत्तर प्रदेश को कोरोना प्रबंधन बेमिसाल और सराहनीय रहा। कोरोना संकट में विपक्ष के नेता होम आइसोलेशन में आराम कर रहे थे जबकि केंद्र और राज्य की भाजपा सरकार, उसके जनप्रतिनिधि और कार्यकर्ता जनता की सेवा में लगे हुए थे। उन्होंने कहा कि कोरोना गैर भाजपा शासन काल में आता तो बाप-बेटे, बुआ-बबुआ, भाई-बहन, चाचा-भतीजा का कहीं पता नहीं होता। मुख्यमंत्री ने बताया कि यूपी में अब तक 15.84 करोड़ लोगों को कोविड वैक्सीन लगाई जा चुकी है, कल यह संख्या 16 करोड़ हो जाएगी और इतनी तो दुनिया के कई देशों की आबादी भी नहीं है। सीएम ने कहा कि सभी लोग वैक्सीन लगवाएं, किसी के बहकावे में न आएं। यह मानवता को बचाने की कवायद है। इस दौरान उन्होंने बिना नाम लिए तंज भी कसा, ” अब्बाजान से सीखे होते की वैक्सीन का प्रभाव क्या होता है।”

दंगाइयों के साथ खड़ी होती थी सपा सरकार

सीएम योगी ने कहा कि देवरिया के लार में पहले दुर्गा पूजा पर दंगे होते थे। पर्व और त्योहारों पर भाटपाररानी और भटनी में तनाव रहता था, मकान जला दिए जाते थे। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी की सरकार में देवरिया में तीन बड़े दंगे हुए। एक मे दंगाई थाने से असलहे लेकर चले गए। पर, सरकार तब पीड़ितों के साथ नहीं बल्कि दंगाइयों के साथ खड़ी होती थी। सीएम ने यह भी बताया कि उनके साढ़े चार साल के कार्यकाल में प्रदेश में एक भी दंगा नहीं हुआ है।

भस्मासुरों को पालने वाले खुद अपने विनाश के जिम्मेदार

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज अनैतिक और अवैध तरीके से कमाई गई अकूत सम्पदा पर सरकार का बुल्डोजर चल रहा है। कुछ दलों को यह बुरा लग रहा है। सपा, बसपा और कांग्रेस के लोग विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि समझ नहीं आता कि माफिया या माफिया हितैषी को जनता समर्थन क्यों करती है। उन्होंने माफिया को भस्मासुर और उन्हें आश्रय देने वालों को महाभस्मासुर करार देते हुए कहा कि इन्हें पालने वाले अपने विनाश के खुद जिम्मेदार होते हैं। सीएम ने कहा कि जनता रंग बदलने वाले गिरगिटों के बहकावे में आए।

डबल इंजन की सरकार में कई गुना है विकास की रफ्तार

सीएम योगी ने कहा कि केंद्र और प्रदेश में बीजेपी की डबल इंजन की सरकार होने से विकास की रफ्तार कई गुना तेज हुई है। हर गरीब को मकान, शौचालय, पेंशन स्वास्थ्य आदियो जनाओं का लाभ मिला है। सरकार हर वर्ग, गरीब, किसान, महिला, नौजवान के उत्थान के लिए कार्य कर रही है। कोविड कालमे सबको मुफ्त जांच, इलाज, टीका के साथ ही मुफ्त राशन सुविधा दी गई। केंद्र और प्रदेश की सरकारें जाति, मत, मजहब, क्षेत्र और भाषा के भेदभाव से परे सबका विकास कर रही हैं। उन्होंने बताया कि उनकी सरकार अगले महीने एक करोड़ युवाओं को स्मार्ट फोन, टैबलेट देने जा रही है। साढ़े चार सालों में साढ़े चार लाख युवाओं को सरकारी नौकरी दी गई जबकि 1.61 करोड़ ओडीओपी, विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना आदि से जोड़कर सेवायोजित किया गया। 60 लाख लोगों को स्वतः रोजगार से जोड़ा गया।

2017 की चूक को ब्याज सहित मांगने आया हूं

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 2022 के चुनाव के लिए जनता से भाटपाररानी विधानसभा क्षेत्र में कमल का फूल खिलाने की अपील की। उन्होंने कहा कि 2012 में भी जनता के गलत निर्णय से यहां के लोगों को 2012 से 2017 तक बिजली के लिए तरसना पड़ता था। अब भाजपा शासन में बिना भेदभाव निर्बाध बिजली मिल रही है। उन्होंने कहा कि 2017 में हुई चूक को वह ब्याज समेत मांगने आए हैं। 2022 में यहां कमल का फूल खिलाने के संकल्प पूरा होगा तो विकास आपके चरण चूमता हुआ दिखाई देगा। मुख्यमंत्री ने आज लोकार्पण और शिलान्यास वाली परियोजनाओं में कई का जिक्र करने के साथ ही अमर सेनानी रामचन्द्र विद्यार्थी को भी नमन किया। उन्होंने कहा कि आजादी की लड़ाई में ब्रिटिश सरकार को चुनौती देकर अपना सर्वस्व न्योछावर करने वाले रामचन्द्र विद्यार्थी का स्मारक बनने जा रहा है। यह उनके प्रति विनम्र और सच्ची श्रद्धांजलि है। इसके साथ ही आजादी के अमृत महोत्सव से अगले 25 साल दुनिया की सबसे बड़ी ताकत बनने का संकल्प काल होगा।

सीएम योगी के नेतृत्व में चतुर्दिक विकास : कृषि मंत्री

इस अवसर पर प्रदेश के कृषि और कृषि शिक्षा मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा कि सीएम योगी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश का चतुर्दिक विकास हुआ है। कानून व्यवस्था के क्षेत्र में बड़े बदलाव से भारी निवेश मार्ग प्रशस्त हुआ है। किसानों से उनके उपज की रिकार्ड खरीद हुई है। गन्ना मूल्य का रिकार्ड भुगतान हुआ है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में उत्तर प्रदेश ने कोरोना नियंत्रण का कीर्तिमान स्थापित किया है। 

देवरिया के सांसद डॉ. रमापति राम त्रिपाठी ने कहा कि योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाया है। यह वही प्रदेश है जहां किसान आत्महत्या करते थे, गुंडे थाना चलाते थे, दंगा ही प्रदेश की पहचान बन गया था। एक ही परिवार का विकास होता था। पर, योगी आदित्यनाथ के शासन में एक भी दंगा नहीं हुआ। गुंडे जेल में हैं या प्रदेश से बाहर चले गए हैं या फिर ऊपर चले गए हैं। कोरोना जैसी महामारी में भी भूख से किसी की मौत नहीं हुई। 

स्वागत संबोधन में सलेमपुर के सांसद रविंद्र कुशवाहा ने कहा कि हम सभी कार्यकर्ता यह संकल्प लें कि भाटपाररानी विधानसभा क्षेत्र में कमल खिलाकर 2002 में फिर से प्रदेश में प्रचंड बहुमत से योगी आदित्यनाथ की सरकार बनाएंगे।

इस अवसर परपशुधन, मत्स्य एवं दुग्ध विकास राज्य मंत्री जय प्रकाश निषाद, जिला पंचायत अध्यक्ष गिरीश चंद्र तिवारी, विधायकगण, सुरेश तिवारी, काली प्रसाद, डॉ. सत्य प्रकाश मणि त्रिपाठी, संजय यादव, धनंजय कन्नौजिया, भाजपा के क्षेत्रीय प्रभारी अनूप गुप्ता, जिलाध्यक्ष अंतर्यामी सिंह, नीरज शाही, राजकुमार शाही राघवेंद्र वीर विक्रम सिंह आदि उपस्थित रहे। 

पूर्व विधायक रघुराजसिंह की प्रतिमा का अनावरण सीएम ने किया

भाटपाररानी के बहियारी बघेल स्थित रघुराज सिंह इंटर कॉलेज के प्रांगण में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्व विधायक, स्वतंत्रता सेनानी स्व.रघुराज सिंह की प्रतिमा का अनावरण भी किया। इस अवसर पर उन्होंने स्व.सिंह के शिक्षा के क्षेत्र में दिए गए योगदान को याद करते हुए उन्हें भारत मां का सच्चा सपूत बताया। 

बच्चों का कराया अन्नप्राशन, चयनितों को नियुक्ति-अनुबंध पत्र

लोकार्पण और शिलान्यास समारोह के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आईसीडीएस योजना के अंतर्गत तीन बच्चों बेबी अनुष्का, मास्टर आदर्श और अभी को खीर खिलाकर अन्नप्राशन कराया। लड्डू गोपाल श्रीकृष्ण की वेशभूषा में आए इन नौनिहालों को सीएम ने खुद तिलक लगाया, माला पहनाई और अपनी गोद में उठाकर काफी प्यार-दुलार भी किया। बच्चों के साथ मुख्यमंत्री की आत्मीयता देख सभी लोग मंत्रमुग्ध हो गए। मुख्यमंत्री ने इस दौरान कई पंचायत सहायकों को अनुबंध पत्र, ग्राम प्रहरी पद पर चयनितों को नियुक्ति पत्र और प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी और ग्रामीण) के लाभार्थियों को प्रतीकात्मक चाबी का वितरण भी किया। इस अवसर पर उन्होंने पीएम आवास योजना के लिए दस करोड़ अड़तीस लाख रुपये की धनराशि का चेक भी प्रदान किया।