Yogi Adityanath, CCTV cameras on every kilometer of highway, Uttar Pradesh, CM Yogi

Loading

  • प्रदेश में राजमार्ग क्षमता का किया जाए विस्तार : सीएम योगी
  • कुंभ मेला के पूर्व पूर्ण की जाएं एनएचएआई की सभी परियोजनाएं : सीएम योगी
  • मुख्यमंत्री ने की एनएचएआई के प्रोजेक्ट्स  की समीक्षा, केंद्रीय राज्यमंत्री वीके सिंह भी रहे मौजूद

गोरखपुर: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि प्रदेश में चल रही सड़क निर्माण परियोजनाओं को तेजी से पूरा कराएं। साथ ही प्रदेश में राजमार्ग क्षमता का विस्तार करते हुए फोरलेन को सिक्स लेन में विस्तारित करें। सुरक्षा और जन सुविधाओं पर विशेष ध्यान दें। सुरक्षा को मजबूत करने के लिए राजमार्ग पर हर किलोमीटर के अंतराल पर सीसी कैमरे लगाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।  मुख्यमंत्री ने प्रयागराज में 2025 में आयोजित होने वाले कुंभ मेला को देखते हुए प्रयागराज से जुड़ी एनएचएआई की परियोजनाओं को प्राथमिकता पर रखते हुए सभी कार्य नवंबर 2024 तक हर हाल में पूर्ण करा लेने के साथ ही अयोध्या क्षेत्र के कार्यों को भी शीघ्रता से पूर्ण कराने के निर्देश दिए हैं।

सीएम योगी ने ये निर्देश रविवार शाम गोरखपुर के एनेक्सी भवन सभागार में एनएचएआई की यूपी में चल रहे प्रोजेक्ट्स की समीक्षा के दौरान दिए। समीक्षा बैठक में केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग राज्यमंत्री जनरल डॉ. वीके सिंह भी उपस्थित थे। बैठक में मुख्यमंत्री ने प्रदेश में जारी एनएचएआई की परियोजनाओं की सिलसिलेवार समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि हाल के वर्षों में उत्तर प्रदेश की रोड कनेक्टिविटी विश्व स्तरीय हुई है। इसे निरंतर गति देते हुए सुदृढ़ करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि जनवरी 2025 में प्रयागराज में कुंभ का भव्य और दिव्य आयोजन होना है। लाखों की संख्या में यहां लोग पहुंचेंगे, सुलभ और सहज आवागमन के लिए रोड कनेक्टिविटी को और शानदार करना है। इसके लिए एनएचएआई प्रयागराज और आसपास के क्षेत्रों में चल रही परियोजनाओं को प्राथमिकता पर रखते हुए समय सीमा के भीतर पूर्ण करा ले। सभी कार्य किसी भी दशा में नवंबर 2024 तक पूरे हो जाने चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने भविष्य की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए प्रयागराज में शंकर मंडपम मंदिर से त्रिवेणी तक रोप-वे बनाने के लिए कार्ययोजना तेजी से आगे बढ़ाने को निर्देश दिया। सीएम योगी ने अयोध्या और आसपास के क्षेत्रों में एनएचएआई की परियोजनाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि जनवरी 2024 में श्रीराम लला अपने भव्य मंदिर में विराजमान हो जाएंगे। इसके बाद देश-दुनिया से आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या कई गुना बढ़ जाएगी। इसे देखते हुए अयोध्या की परियोजनाओं को और तीव्र करने की जरूरत है। 

बैठक में मुख्यमंत्री गोरखपुर-वाराणसी, सोनौली-गोरखपुर और गोरखपुर नार्थ ईस्ट बाईपास की भी समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने एनएचएआई के अफसरों से मार्च 2024 तक गोरखपुर-वाराणसी राजमार्ग का कार्य पूर्ण करने के साथ निर्माण कार्य की गुणवत्ता की जांच करने का निर्देश दिया। कहा कि यदि गुणवत्ता में कोई खामी मिले तो इसके लिए जिम्मेदार लोगों को चिन्हित कर कड़ी कार्रवाई भी की जाए। सोनौली-गोरखपुर राजमार्ग के कार्य मे और तेजी लाई जाए। सीएम योगी ने लखनऊ, कानपुर, वाराणसी, मथुरा, आगरा, बरेली, मेरठ में चल रही एनएचएआई की परियोजनाओं की भी गहन समीक्षा कर तेजी से काम करने की हिदायत दी। बैठक में एनएचएआई की तरफ से बताई गई कुछ परेशानियों को मुख्यमंत्री ने तत्परता से दूर करने का आश्वासन दिया। 

सहजनवा में बनेगा फ्लाई ओवर, जाम की समस्या से मिलेगी निजात
गोरखपुर में एनएचएआई के कार्यो की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सहजनवा में फ्लाईओवर बनाने का निर्देश दिया है। इससे सहजनवा कस्बे में होने वाली जाम की समस्या से निजात मिलेगी। मुख्यमंत्री ने कहा फ्लाईओवर को लेकर भूमि अधिग्रहण के लिए जिलाधिकारी सहयोग करेंगे। 

एनएचएआई के चेयरमैन ने दी परियोजनाओं की जानकारी
बैठक में एनएचएआई के चेयरमैन संतोष यादव ने प्रदेश में चल रही परियोजनाओं की विस्तार से जानकारी दी। बैठक में सांसद रविकिशन शुक्ल, महापौर डॉ मंगलेश श्रीवास्तव, कई विधायकगण, प्रमुख सचिव पीडब्लूडी अजय चौहान समेत कई अधिकारी, व्यक्ति मौजूद थे जबकि कई जिलों के अधिकारी वर्चुअल जुड़े थे।