The door of the alien's house was seen on Mars! This picture of NASA surprised everyone

हाल ही में नासा (NASA) के क्यूरियोसिटी रोवर ने पत्थर में एक चौकोर रास्ता देखा। (Pic Credit : NASA/JPL)

    नई दिल्ली: अंतरिक्ष की दुनिया में कई रहस्य है। आए दिन इन छिपे हुए रहस्यों के बारे में जानकारी मिल रही है। इसी बीच अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (NASA) को मंगल ग्रह पर कुछ अजीब दिखा। हाल ही में नासा (NASA) के क्यूरियोसिटी रोवर ने पत्थर में एक चौकोर रास्ता देखा। जिसे देखकर ऐसा लगता है कि, वहां कोई रास्ता बनाया गया है। हालांकि, पत्थर के अंदर बनाये गए इस दरवाजे के अंदर क्या है ये तो फिलहाल पता नहीं चला। 

    हाल ही में नासा (NASA) ने एक तस्वीर शेयर की है। इस तस्वीर को देखने के बाद हर कोई हैरान रह गया है। 7 मई 2022 को मार्स क्यूरियोसिटी रोवर के मास्टकैम (MastCam) ने एक तस्वीर ली थी। यह तस्वीर ब्लैक एंड व्हाइट मिली थी। जिसे बाद में नासा के वैज्ञानिकों ने रंग दिया। 

    इस तस्वीर को देखने के बाद शुरुआत में नासा के वैज्ञानिकों ने बताया कि, पहले तो उन्हें यही लगा कि, मंगल ग्रह के केंद्र में जाने का रास्ता मिल गया। या फिर ये किसी एलियन के घर का दरवाजा भी हो सकता है। वहीं, कुछ वैज्ञानिकों का मानना है कि, यह एक आकृति है, जो मंगल ग्रह पर आने वाले भूकंप (Marsquakes) की वजह से पत्थर के टूटने से बनी है। या फिर यह आकृति पत्थरों पर पड़े किसी तरह के दबाव का नतीजा है। दरअसल, 4 मई 2022 को मंगल ग्रह पर सबसे भयानक भूकंप की जानकारी सामने आई थी।

    नासा (NASA) द्वारा शेयर की गई तस्वीर को देखने के बाद कुछ वैज्ञानिकों का मानना है कि यह पत्थर के बीच बना एक गड्ढा है, जो लाल मिट्टी से भरा हुआ था। मंगल ग्रह पर आए भूकंप की वजह से मिट्टी टूटकर साफ हो गई और इस वजह से दरवाजा दिखने लगा। यह दरवाजा जिस जगह पर मिला है, उसे ग्रीनह्यू पेडिमेंट (Greenheugh Pediment) कहते हैं। 

    इस तस्वीर के बारे में बताते हुए नासा ने कहा कि, पिछले कुछ वर्षों में मंगल ग्रह पर मौजूद लैंडर्स और रोवर्स ने बेहद विचित्र और शानदार फोटोग्राफ्स लिए हैं। इन तस्वीरों में बर्फ से भरे गड्ढे, अलग-अलग आकार के पत्थर, खाली पड़े पहाड़ समेत बहुत कुछ। 

    अंतरिक्ष में जब भी कोई अजीबो-गरीब चीजों की खोज होती है। तो उसे एलियन से जोड़ देते हैं। लेकिन, इस तस्वीर को लेकर नासा ने कहा है कि हमें इस तरह की कहानियों से दूर रहना चाहिए। जब तक किसी भी चीज की जांच नहीं हो जाती उसके बारे में किसी तरह की अफवाह उड़ाना सही नहीं है।