australian-open-2021-qualifying-events-in-doha-dubai-complete-15-charters-to-arrive-in-melbourne

कोरोना महामारी (Covid-19) के कारण पृथकवास प्रोटोकॉल (Quarantine Protocol) के मद्देनजर टूर्नामेंट तीन सप्ताह देर से शुरू हो रहा है ।

मेलबर्न. परंपरागत तारीखों से तीन सप्ताह विलंब से शुरू हो रहे आस्ट्रेलियाई ओपन टेनिस (Australian Open 2021) के क्वालीफायर यहां से करीब 12000 किलोमीटर दूर खेले गए और अब आठ फरवरी से सत्र के इस पहले ग्रैंडस्लैम के लिये 16 पुरूष और 16 महिला क्वालीफायर चार्टर्ड उड़ानों से यहां पहुंचेंगे । कोरोना महामारी (Covid-19) के कारण पृथकवास प्रोटोकॉल (Quarantine Protocol) के मद्देनजर टूर्नामेंट तीन सप्ताह देर से शुरू हो रहा है ।

क्वालीफायर 15 चार्टर्ड उड़ानों से यहां पहुंचकर 14 दिन पृथकवास में रहेंगे । मुख्य ड्रॉ में पहले ही जगह बना चुके खिलाड़ी आज से पहुंचना शुरू करेंगे । महिला क्वालीफायर मुकाबले दुबई और पुरूष क्वालीफायर दोहा में खेले गए । महिला क्वालीफायर में दो बार की आस्ट्रेलियाई ओपन और फ्रेंच ओपन युगल चैम्पियन हंगरी की टिमिया बाबोस और ब्रिटेन की फ्रांसिस्का जोंस भी है ।

जोंस के दुर्लभ आनुवांशिक लक्षण हैं यानी वह दोनों हाथ में तीन ऊंगलियों और एक अंगूठे , दाहिने पैर में तीन ऊंगलियों और बायें पैर में चार ऊंगलियों के साथ पैदा हुई थी । पुरूष क्वालीफायर में स्पेन के 17 वर्ष के कार्लोस अलकारेज शामिल हैं । छह महिला और छह पुरूष खिलाड़ी ‘ लकी लूजर्स’ के रूप में आस्ट्रेलिया जायेंगे और उन्हें भी पृथकवास में रहना होगा ।

किसी खिलाड़ी के नाम वापिस लेने या चोटिल होने पर इन्हें मौका मिलेगा । इनके अलावा रैंकिंग के आधार पर 104 खिलाड़ियों को स्वत: प्रवेश मिला है । वाइल्ड कार्डधारी खिलाड़ी और क्वालीफायर उनसे जुड़ेंगे । सभी खिलाड़ियों को आस्ट्रेलिया की उड़ान भरने से पहले कोरोना जांच की नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी ।

पहुंचने पर और पृथकवास में भी उनकी जांच होगी । क्वालीफायर को 15 विशेष उड़ानों से लाया जायेगा जिसमें कुल क्षमता की 25 प्रतिशत सीटें ही भरी होंगी । नेगेटिव नतीजा आने पर खिलाड़ी रोज पांच घंटे कड़े प्रोटोकॉल के बीच अभ्यास कर सकेंगे । (एजेंसी)