Nadal and Novak
AP/PTI Photo

    पेरिस. शीर्ष वरीयता प्राप्त नोवाक जोकोविच (Novak Djokovik) और राफेल नडाल (Rafael Nadal) आसान जीत के साथ फ्रेंच ओपन टेनिस ग्रैंडस्लैम (French Open Tennis Grand Slam) के चौथे दौर में पहुंच गये जबकि महिला वर्ग में पांचवीं वरीय एलिना स्वितोलिना उलटफेर का शिकार बनीं। रिकार्ड 13वां फ्रेंच ओपन खिताब जीतने की कोशिश में जुटे नडाल ने कैमरन नूरी को 6-3, 6-3, 6-3 से हराकर 50वीं बार ग्रैंडस्लैम के राउंड 16 में प्रवेश किया। अब उनका सामना इटली के 19 वर्षीय जानिक सिनर से होगा।

    सर्बियाई स्टार जोकोविच ने 93 रैंकिंग के रिकार्डस बेराकिंस को आसानी से 6-1, 6-4, 6-1 से पराजित कर दिया। उन्होंने लगातार 12वीं बार टूर्नामेंट के अंतिम 16 में जगह पक्की करने का रिकार्ड बनाया। इससे पहले नडाल और रोजर फेडरर लगातार 11 बार राउंड 16 तक पहुंचे थे। जोकोविच दूसरा फ्रेंच ओपन और कुल 19वां ग्रैंडस्लैम खिताब हासिल करने की कोशिश में जुटे हैं। नडाल और फेडरर दोनों 20-20 ट्राफियां जीत चुके हैं। बेरांकिस के खिलाफ जोकोविच को एक भी ब्रेक प्वाइंट का सामना नहीं करना पड़ा और उन्होंने 30 विनर लगाये और महज 18 अनफोर्स्ड गलतियां कीं। जोकोविच अब क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने के लिये इटली के 19 वर्षीय लोरेंजो मुसेटी से भिड़ेंगे।

    महिलाओं के वर्ग में केनिन भी अगले दौर में जगह बनाने में सफल रहीं। चौथे नंबर की केनिन महिलाओं के ड्रा में अब शीर्ष वरीयता प्राप्त खिलाड़ी हैं। केनिन ने हमवतन जेसिका पेगुला को 4-6, 6-1, 6-4 से हराकर लगातार तीसरे साल रोलां गैरां के चौथे दौर में जगह बनायी। पिछले साल वह अक्टूबर में इगा स्वियातेक से हारकर फ्रेंच ओपन की उप विजेता रही थीं। पांचवीं वरीयता प्राप्त स्वितोलिना को बारबरा क्रजेसिकोवा से 3-6 2-6 से हारकर उलटफेर का सामना करना पड़ा। आठवीं वरीय स्वियातेक ने एनेट कोंटावेट को 7-6 6-0 से हराया और अब उनका सामना यूक्रेन की मार्ता कोस्तयुक से होगा।

    आस्ट्रेलियाई ओपन 2020 चैम्पियन केनिन ने 48 विनर लगाये जबकि पेगुला 18 बार ही ऐसा कर सकीं। केनिन ने 10 डबल फॉल्ट की और पांच बार उनकी सर्विस टूटी लेकिन अंत में अपने चार सर्विस गेम बचाकर जीत हासिल करने में सफल रहीं। वहीं अमेरिका की पूर्व उप विजेता स्लोआने स्टीफंस ने 18वीं वरीयता प्राप्त कैरोलिना मुचोवा को 6-3 7-5 से चौथे दौर में प्रवेश किया। स्टीफंस 2018 रोलां गैरां के फाइनल में हार गयी थीं। उन्होंने एक साल पहले अमेरिकी ओपन में अपना एकमात्र ग्रैंडस्लैम खिताब जीता था। अब उनका सामना क्रजेसिकोवा से होगा। (एजेंसी)