us-open-naomi-osaka-jennifer-brady-serena-williams-victoria-azarenka-semifinal

अजारेंका ने अपनी इस मजबूत प्रतिद्वंद्वी को 1-6, 6-3, 6-3 से हराकर 2013 के बाद पहली बार किसी ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनायी।

न्यूयार्क. सेरेना विलियम्स (Serena Williams) टखने की चोट के कारण शानदार शुरुआत का फायदा उठाने में नाकाम रही और गुरुवार की रात को यहां यूएस ओपन (US Open) टेनिस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में विक्टोरिया अजारेंका (Victoria Azarenka) से हारने के कारण उनका 24वां ग्रैंडस्लैम खिताब का सपना भी टूट गया। अजारेंका ने अपनी इस मजबूत प्रतिद्वंद्वी को 1-6, 6-3, 6-3 से हराकर 2013 के बाद पहली बार किसी ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनायी।

खिताबी मुकाबले में उनका सामना दो बार की ग्रैंडस्लैम चैंपियन नाओमी ओसाका से होगा जिन्होंने अमेरिका की जेनिफर ब्राडी को 7-6 (1), 3-6, 6-3 से पराजित किया। सेरेना के टखने में दर्द था और इस बीच उन्होंने ‘टाइम आउट’ भी लिया। अजारेंका ने पहला सेट आसानी से गंवाने के बावजूद धैर्य नहीं खोया और ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंटों में 11 मुकाबलों में पहली बार सेरेना को शिकस्त देने में सफल रही। अजारेंका ने बाद में कहा, ‘‘यहां पहुंचने में सात साल का समय लग गया। यह मेरा पसंदीदा नंबर है।

फाइनल तक पहुंचने के लिये आपको सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों को हराना होता है और आज का दिन भी ऐसा ही था। ” अजारेंका ने 2013 और 2013 में आस्ट्रेलियाई ओपन का खिताब जीता था। इन दोनों वर्षों में वह यूएस ओपन के फाइनल में भी पहुंची थी लेकिन दोनों अवसरों पर सेरेना से पार पाने में नाकाम रही थी। सेरेना ने जिस तरह से पहला सेट जीता उससे लग रहा था कि वह आसानी से लगातार तीसरी बार यहां फाइनल में जगह बनाने में सफल रहेगी लेकिन अजारेंका ने दूसरे सेट में लगातार पांच गेम जीते और फिर तीसरे सेट में 3-0 की बढ़त बनाकर अपनी मशहूर प्रतिद्वंद्वी को वापसी का मौका नहीं दिया। अजारेंका ने बेहतरीन अंदाज में वापसी की।

उन्होंने दूसरे सेट में 12 विनर्स लगाये और केवल एक गलती की। इसके बार तीसरे सेट में उन्होंने बेसलाइन पर अपनी विशेषज्ञता का शानदार नमूना पेश किया, विशेषकर उनके बैकहैंड का सेरेना के पास कोई जवाब नहीं था। अब अजारेंका और ओसाका आमने सामने होंगी। ये दोनों खिलाड़ी पूर्व में नंबर एक रह चुकी हैं। अजारेंका इस जीत से अपने विजय अभियान को 11 जीत तक ले गयी है जबकि ओसाका ने भी लगातार दस मैच जीते हैं।

अजारेंका और ओसाका के बीच वेस्टर्न एंड सदर्न ओपन का फाइनल भी खेला जाना था लेकिन जापानी खिलाड़ी मांसपेशियों में खिंचाव के कारण खिताबी मुकाबले से हट गयी थी। फ्लाशिंग मीडोज पर 2018 में सेरेना को हराकर खिताब जीतने वाली ओसाका ने फाइनल में पहुंचने के बाद कहा, ‘‘यह मेरे लिये काफी मायने रखता है। मैं न्यूयार्क को अपना दूसरा घर जैसा मानती हूं। ‘ (एजेंसी)