क्लस्टर योजना में 1001 लाभार्थियों को मिलेगा घर

  • हजूरी की फाइनल लिस्ट तैयार

ठाणे. ठाणे में क्लस्टर योजना को वास्तव में अब गति मिली है. जर्जर व अवैध इमारतों में रहने वालों के साथ ही झोपड़ों में रहने वाले रहिवासियों को अब उनका पक्का घर मिलने का राह आसान हो गया है. एक तरफ जहां शहर के मध्य में स्थित श्रीरंग सोसायटी परिसर में स्थित आजादनगर में मनपा आयुक्त डा. विपिन शर्मा के मार्गदर्शन में उथलसर प्रभाग समिति के सहायक आयुक्त शंकर पाटोले के अथक प्रयास के बाद बायोमेट्रिक सर्वेक्षण का काम अब पूरा हो चुका है.

अब यहां के झोपड़ी धारकों को इमारतों में जल्द ही पक्का घर मुहैया होने वाला है. वहीं अब पालकमंत्री एकनाथ शिंदे के विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले हजूरी परिसर में भी इस महत्वाकांक्षी योजना के तहत 1001 लाभार्थियों को उनके हक का सुरक्षित घर मिलेंगा. ठाणे मनपा ने अपनी वेबसाइट पर अंतिम लाभार्थियों की सूची प्रकाशित की है.

क्लस्टर योजना के तहत पहले चरण में ठाणे मनपा ने कोपरी, हजुरी, टेकड़ी बंगला, लोकमान्य नगर, किसन नगर और राबोडी क्षेत्रों को क्लस्टर योजना के लिए लाभार्थियों की सूची तैयार कर ली है. क्लस्टर योजना अंतर्गत शहर में अंतरराष्ट्रीय दर्जे की सुविधाएं मनपा द्वारा उपलब्ध कराई जाएंगी, जिसमें खेल के मैदान, सांस्कृतिक केंद्र, सुरक्षा, महिलाबचत गट के स्वतंत्र जगह, कम्युनिटी सेंटर, सिटी सेंटर, टाउन सेंटर आदि का समावेश होगा. वहीं जो भी निवासी अनधिकृत निर्माणों में रह रहे हैं, उन्हें भी पुनर्विकास में समान घर मिलेंगे. क्लस्टर योजना मुख्य रूप से रहने वालों के आवास संघों द्वारा कार्यान्वित की जाएगी और उन्हें पुनर्विकास में घरों का कब्जा सुरक्षित अधिकारों के साथ मिलेगा. 

मनपा ने हजूरी में सर्वेक्षण पूरा कर लिया है और 1001 निवासियों की एक सूची तैयार की है. लाभार्थियों की पहली सूची मई 2019 में प्रकाशित की गई थी. आपत्तियों और सुझावों को ध्यान में रखकर आयुक्त ने 30 जनवरी को अंतिम सूची बनाने को मंजूरी दी. यह अंतिम सूची मनपा द्वारा अनुमोदित की गई है और इसे मनपा द्वारा लाभार्थियों और नागरिकों की जानकारी के लिए एक नोटिस के माध्यम से प्रकाशित किया जाएगा. वहीं मनपा ने स्पष्ट किया है कि नागरिक प्रणाली विकास योजना के लिए कंप्यूटर प्रणाली पर प्रकाशित सूची ही अंतिम है.