150 नए मरीज मिले, 6000 के पार पॉजिटिव की संख्या

नवी मुंबई. मनपा के स्वास्थ्य विभाग को शनिवार को कोरोना की जो जांच रिपोर्ट मिली है. उसमें 150 लोगों को कोरोना पॉजिटिव बताया गया है.  इन नए मरीजों में 57 महिलाओं व 93 पुरुषों का समावेश है. जिन्हें उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इन 150 नए मरीजों के मिलने के बाद अब मनपा क्षेत्र में कोरोना पॉजिटिव की संख्या 6003 हो गई है.  शनिवार को जिन 150 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है. उसमें ऐरोली विभाग के 32 लोगों का समावेश है. इन 32 नए मरीजों के मिलने के बाद अब ऐरोली विभाग में मिले कोरोना पॉजिटिव के मरीजों की संख्या 908 हो गई है. इसके अलावा शनिवार को मिले 150 मरीजों में बेलापुर 14, नेरुल 30, वाशी 7, तुर्भे 7, कोपरखैरने 26, घनसोली 29 व दीघा के 5 लोगों का समावेश है. शनिवार को इस बीमारी से और 7 लोगों ने दम तोड़ दिया. जिसके बाद इस बीमारी से हुई मौत की संख्या अब 201 हो गई है.    

111 मरीज हुए ठीक

मनपा के क्षेत्र में जहां एक ओर कोरोना पॉजिटिव की संख्या में वृद्धि हो रही है. वहीं दूसरी ओर इस बीमारी से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है. शनिवार को मनपा को जिन लोगों की रिपोर्ट कोरोना निगेटिव मिली है. उसमें उन 111 लोगों का समावेश है. जो पहले कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. इन 111 मरीजों के ठीक होने के बाद अब इस बीमारी से ठीक हुए मरीजों की संख्या 3405 हो गई है. शनिवार को कोरोना से ठीक हुए 111 लोगों में 43 महिलाओं व 68 पुरुषों का समावेश है. जिन्हें स्वस्थ घोषित करके मनपा ने उनके घर भेज दिया है.

विभाग         मरीज 

बेलापुर         500

नेरुल            905

तुर्भे              994

वाशी            600

कोपरखैरने  1061

घनसोली        753

ऐरोली            908

दीघा               282

4 कंटेनमेंट जोन में 10 हॉटस्पॉट 

मनपा के जिन क्षेत्रों में 100 मीटर से कम की दूरी में 5 से अधिक कोरोना पॉजिटिव के मरीज पाए गए हैं. ऐसे 34 क्षेत्रों को मनपा के द्वारा 25 जून से कंटेनमेंट जोन में रखा गया है. वहीं जिन क्षेत्रों में विगत 15 दिनों से कोरोना पॉजिटिव के सबसे अधिक मरीज पाए गए हैं. ऐसे 10 क्षेत्रों को विशेष कंटेनमेंट जोन के साथ-साथ हॉटस्पॉट घोषित किया गया है. जहां पर सोमवार 29 जून से विशेष कंटेनमेंट जोन का नियम लागू होगा.

मनपा आयुक्त अण्णासाहेब मिसाल के अनुसार कोरोना के संक्रमण से सबसे अधिक प्रभावित 10 बड़े क्षेत्रों में अत्यावश्यक व स्वास्थ्य संबंधित काम के लिए ही लोगों को उनके घरों से बाहर निकलने की अनुमति दी जाएगी. इन 10 हॉट स्पॉट वाले क्षेत्रों में 29 जून से 5 जुलाई 2020 तक मास स्क्रीनिंग का अभियान चलाया जाएगा. इस दौरान इन क्षेत्रों में डॉक्टरों की टीम लोगों के घर-घर जाकर कोरोना की  जांच करेगी.