Rs 10 Liquor seller tried to burn a person alive by putting petrol on refusal

  • अंबरनाथ तहसील के वांगणी-डोणेगांव की हृदय विदारक घटना

बदलापुर. अंबरनाथ तहसील के ग्रामीण हल्के के अंतर्गत आने वाले डोणेगांव में एक 48 वर्षीय व्यक्ति के शरीर पर पेट्रोल डालकर उसे जिंदा जलाकर मारने की घटना सामने आयी है. मृतक का नाम चंद्रकांत पवार है. जानकारी के अनुसार उक्त गांव स्थित विश्वनाथ अपार्टमेंट की बी विंग के फ्लैट नंबर 201 में  चंद्रकांत पवार अपनी पत्नी एवं अपने 2 बच्चों के साथ रहते थे. दस दिन पहले चंद्रकांत पवार की लड़की बिजली का बिल लेने बिल्डिंग की सी विंग गई जहां पर बिजली के रखे थे.

बताया गया कि वही रहने वाले निखिल गुरव की मां पवार की लड़की को यह कहते हुए काफी खरी खोटी सुनाई व कहा कि तू मुझे क्यों देख रही है. निखिल की मां ने लड़की को गाली गलौज भी की. बात में आपस में दोनों के बीच समझौता हो गया. दस सितंबर को शराब के नशे में निखिल गुरव चंद्रकांत पवार के फ्लैट पहुंचा व दुबारा झगड़ा करने लगा.

निखिल साथ में एक बोतल पेट्रोल भर कर लाया था. निखिल ने चंद्रकांत पवार के शरीर पर पेट्रोल की पूरी बोतल उड़ेल कर लायटर से आग लगा दी. बुरी तरह जल चुके चंद्रकांत पवार को मुंबई के अस्पताल भेजा गया जहां घटना के 8 दिन बाद इलाज के दौरान गुरुवार को मौत हो गई. मृतक चंद्रकांत पवार दलित समाज से है.

बदलापुर पुलिस ने इस दर्द विदारक घटना को अंजाम देने वाले निखिल गुरव को गिरफ्तार कर लिया है. इस तरह मामूली बात को लेकर दलित समुदाय के एक व्यक्ति को जिंदा जलाकर मारने की घटना से डोणेगांव में सनसनी मच गई है. पुलिस हत्या की धाराओं के अलावा एट्रोसिटी एक्ट की धाराएं लगाई है.