लग्जरी वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई शुरू

ठाणे. ठाणे ट्रैफिक पुलिस ने अब उन लोगों के खिलाफ आक्रामक रुख अख्तियार कर लिया है जो ट्रैफिक नियमों को तोड़ने के बाद भी जुर्माना नहीं भरते हैं. ठाणे ट्रैफिक पुलिस की सीमा के भीतर उपवन क्षेत्र में पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है और नियमों को तोड़ने वाले लक्जरी वाहन चालकों से जुर्माना वसूल किया. शुक्रवार को पुलिस ने लग्जरी वाहन चालकों को रोककर और उनसे 25,000 रुपये का जुर्माना वसूल किया.

बता दें कि ठाणे में बिना हेलमेट के गाड़ी चलाना, सिग्नल के नियमों को तोड़ना, भारी वाहन चलाना, गाड़ी में बैठते समय सीट बेल्ट न लगाना जैसे नियमों का उल्लंघन होता ही रहता हैं.  ट्रैफिक पुलिस ऐसे उल्लंघनकर्ताओं के खिलाफ ई-चालान के जरिए वाहनों की फोटो खींचकर कार्रवाई करती है. ई-चलान के जरिये भेजे गए दंड की रकम अभी तक कई वाहन चालकों ने नहीं जमा की है, इसलिए ठाणे ट्रैफिक पुलिस इन वाहन चालकों पर दंडात्मक कार्रवाई कर रही है. ठाणे ट्रैफिक पुलिस उपायुक्त बालासाहेब पाटिल ने ऐसे लंबित जुर्माना वाले ड्राइवरों को 30 नवंबर से पहले जुर्माना भरने का निर्देश दिया था. ट्रैफिक पुलिस ने शुक्रवार को यह पता लगाने के बाद स्पॉट जांच शुरू की है कि लग्जरी वाहनों के ड्राइवरों ने भी लंबित जुर्माना नहीं भरा है.

उपवन से बड़ी संख्या में लक्जरी वाहन आते हैं. पुलिस ने इस क्षेत्र से गुजरने वाली ऑडी और बीएमडब्ल्यू जैसी महंगी कारों के ड्राइवरों को रोका और उनसे लंबित जुर्माना वसूलना शुरू कर दिया है. पुलिस ने उपवन क्षेत्र में दोपहर तक लक्जरी कार चलाने वाले चार से पांच ड्राइवरों को रोक दिया है और उनसे 25,000 रुपये का जुर्माना वसूल किया है. लग्जरी कार चालकों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाती है ऐसा नागरिकों की गलत धारणा है. यातायात पुलिस ने कहा है कि यह सिर्फ शुरुआत है और एक दिसंबर से जुर्माना न भरने वालों के खिलाफ विशेष अभियान चलाया जाएगा.