आदित्य ठाकरे ने लिया पत्रीपुल के गार्डर लॉचिंग का जायजा

  • कहा-हमें घर में बैठकर राजनीति नहीं करनी है, काम करके दिखाना है

कल्याण. शनिवार सुबह से ब्रिटिश कालीन पत्रीपुल के गर्डर लांचिंग का कार्य शुरू हो गया औऱ पत्रीपुल पर गार्डर लॉन्चिंग के कार्य का जायजा लेने वन एवं पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे कल्याण आए. राज्य के वन एवं पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे ने पत्रीपुल के कार्य का जायजा लेने के बाद विरोधियों पर जमकर हमला करते हुए कहा कि मुझे घर में बैठकर राजनीति नहीं करनी है, बल्कि राज्य में काम करके दिखाना है. मंत्री ठाकरे का इशारा विरोध में बैठे भाजपा नेताओं की ओर था, ठाकरे ने कहा कि सत्ता जाने के बाद विरोधियों के पेट में चूहे कूद रहे हैं, इसलिए अनाप-शनाप बयानबाजी कर रहे हैं.  

शनिवार को पत्रीपुल पर गार्डर लॉन्चिंग कार्य के निरीक्षण के दौरान वन एवं पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे के साथ ठाणे जिला के पालकमंत्री एकनाथ शिंदे, कल्याण के शिवसेना  सांसद डॉ. श्रीकांत शिंदे, कल्याण पश्चिम के शिवसेना विधायक विश्वनाथ भोईर, पूर्व महापौर रमेश जाधव, मनपा आयुक्त डॉ. विजय सूर्यवंशी, महेश गायकवाड़, सहित रेलवे के कई वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे. 

मेगाब्लॉक की वजह से सुबह ट्रेनों का संचालन बंद कर दिया  गया था, मध्य रेलवे के अधिकारियों की मौजूदगी में गार्डर लांचिंग का काम शुरू किया गया और करीब 40 मीटर गर्डर को सरकाने के बाद उसका टेक्निकल प्वाइंट चेक किया गया,  निर्धारित मेगाब्लॉक के बाद ट्रेनों का आवागमन शुरू हुआ और यात्री अपने गंतव्य तक रवाना हुए, 

गौरतलब हो कि पत्रीपुल के निर्माण कार्य को देखते हुए मध्य रेल प्रशासन ने 21 और 22 नवंबर को 4-चार  घन्टे और 26 और 27 नवंबर को 3-तीन घन्टे का मेगाब्लाक किया है.  प्रवासियों को उक्त समय में आवागमन में कोई  परेशानी नहीं  हो, इसके लिए केडीएमटी प्रशासन ने 25 अतिरिक्त बसों की व्यवस्था की. इन बसों को कल्याण से डोंबिवली, उल्हासनगर, अम्बरनाथ, बदलापुर और टिटवाला आदि जगहों तक चलाया जा रहा है.