कोरोना मरीजों को मुफ्त उपचार मिलना चाहिए : प्रवीण दरेकर

नव मुंबई. नवी मुंबई मनपा क्षेत्र में कोरोना से निपटने चिकित्सा और नियंत्रण सुविधाओं का जायजा लेने आए भाजपा विधायक एवं विरोधी पक्ष नेता प्रवीण दरेकर ने मनपा आयुक्त एबी मिसाल से मुलाकात की और वाशी के कोविड केयर सेंटर का दौरा किया. प्रवीण दरेकर ने कहा कि प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना उपचार के नाम पर भारी लूट चल रही है इसे रोकने के लिए सभी रोगियों को महात्मा फुले जन आरोग्य योजना में समाहित कर उन्हें मुफ्त उपचार की सुविधा मिलनी चाहिए.

उन्होंने राज्य सरकार को सुझाव देते हुए कहा कि कोरोना का प्रकोप बढ़ रहा है उसकी जानकारी छुपा कर संकट को और बढ़ाने की बजाय नियंत्रण के लिए त्वरित निर्णय लेने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि सरकार कोरोना का सही आंकड़ा छुपा कर बड़े संकट को आमंत्रण दे रही है. दरेकर के साथ पूर्वमंत्री गणेश नाईक, विधायक मंदा म्हात्रे, रमेश पाटिल, पूर्व विधायक संदिप नाईक, महापौर जयवंत सुतार, भाजपा जिलाध्यक्ष रामचंद्र घरत समेत तमाम लोग मौजूद थे. भाजपा नेता ने पहले मनपा आयुक्त से मुलाकात की और फिर मनपा अस्पताल में भी भेंट दी.

सिर्फ आयुक्त का तबादला क्यों मंत्री भी दें इस्तीफा- दरेकर

कोंकण के जिलों में दौरा कर रहे नेता विपक्ष ने कहा कि मुंबई, ठाणे, नवी मुंबई में दौरा करने निकले प्रवीण दरेकर ने कहा कि कोरोना मरीजों को पर्याप्त ईलाज नहीं मिल रहा है. जबकि सरकार का दावा है कि सभी सुविधाएं मौजूद हैं. उन्होंने कहा कि यदि ऐसा है तब लोग क्यों शोर मचा रहे हैं इसका मतलब है कि सरकार और स्थानीय प्रशासन के बीच समन्वय का अभाव है जिसे जनता के हित में ठीक करने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि उक्त शहरों में संक्रमण और मृतकों की संख्या बढ़ रही है. भाजपा इस पर राजनीति नहीं कर रही है बल्कि सरकार को आगाह कर रही है. उन्होंने कहा कि कोरोना के लिए आयुक्त को जिम्मेदार मानकर तबादला करना अगर जायज है तो फिर पालकमंत्री और आरोग्यमंत्री का भी इस्तीफा लेना चाहिए क्योंकि वे भी इसके लिए जिम्मेदार हैं.