BJP-RPI alliance organizes front on Ulhasnagar Municipal Corporation

    उल्हासनगर. उल्हासनगर महानगरपालिका (Ulhasnagar Municipal Corporation) द्वारा धोखादायक बिल्डिंगों के काटे गए पानी और बिजली के कनेक्शन (Water and Electricity Connections) को फिर से जोड़े जाने, जर्जर और धोखादायक इमारतों में रहने वालों लोगों का पुनर्वसन किए जाने की मांग को लेकर भाजपा (BJP) और आरपीआई (आ.) (RPI- A.) ने महानगरपालिका पर मोर्चे का आयोजन किया था, लेकिन महानगरपालिका अधिकारियों द्वारा मोर्चा स्थल पर पहुंच कर आंदोलनकारियों से प्रभाग समिति कार्यालय में ही चर्चा किए जाने से मोर्चा महानगरपालिका मुख्यालय पर नहीं आया।

    भाजपा और आरपीआई के कार्यकर्ता  शुक्रवार की दोपहर  गोलमैदान में एकत्रित हुए। इसमें भाजपा विधायक गणपत गायकवाड़, निरंजन डावखरे,  कुमार आयलानी,उपमहापौर भगवान भालेराव, पूर्व विधायक नरेंद्र पवार, जिला अध्यक्ष  जमनु पुरसवानी, मनपा के नेता प्रतिपक्ष किशोर वनवारी, नगरसेवक राजेश वधारिया, महेश सुखरमानी, प्रकाश नाथानी, राजू जग्यासी, प्रदीप रामचंदानी, पूर्व महापौर मीना कुमार आयलानी, संगठन मंत्री मनोहर खेमचंदानी, महासचिव मंगला चांडा, युवा अध्यक्ष सुमित मेंहेरोलिया सहित दोनों दलों के पदाधिकारी कार्यकर्ता उपस्थित थे। 

    टाटा आमंत्रण में 500 फ्लैट उपलब्ध कराने का निर्णय

    इस संदर्भ में महानगरपालिका के जनसंपर्क अधिकारी डॉ. युवराज भदाणे ने कहा कि धोखादायक बिल्डिंगों में रहने वाले नागरिकों के लिए राज्य सरकार के संबंधित विभाग ने गुरुवार को ही टाटा आमंत्रण में 500 फ्लैट उपलब्ध कराने का महत्त्वपूर्ण निर्णय लिया है। जल्द ही शेष प्रक्रिया पूरी की जाएगी। उन्होंने कहा कि महानगरपालिका के माध्यम से धोखादायक बिल्डिंगों का स्ट्रक्चरल ऑडिट कराने का महत्त्वपूर्ण निर्णय लिया गया है।