Bumper-arrival-of-potato-onion-at-APMC-both-cheaper-in-bulk

    राजीत यादव

    नवी मुंबई. विगत कुछ दिनों से वाशी (Vashi) स्थित एपीएमसी (APMC) की आलू-प्याज की मंडी में आलू (Potato ) और प्याज (Onion) की आवक बढ़ गई है। जिसकी वजह से इन दोनों के दाम में गिरावट आने का सिलसिला जारी था। मंगलवार को मंडी में इन दोनों की बंपर आवक हुई। जिसके चलते थोक में इनके दाम (Price) में भारी गिरावट आई है। थोक में आलू-प्याज के सस्ता होने से खुदरा बाजार में भी इनकी कीमत काफी कम हो गई हैं। जिसके चलते अब आम लोग कुछ राहत महसूस कर रहे हैं।

    वाशी स्थित एपीएमसी की आलू-प्याज की मंडी में थोक में कारोबार कर रहे मनोहर तोतलानी ने बताया कि मंगलवार को महाराष्ट्र के नासिक और अहमदनगर जिले से मंडी में 30 हजार 805 बोरी प्याज की आवक हुई। जिसमें से वीआईपी दर्जे के प्याज को थोक में 13 से साढ़े 13 रुपए किलो का दाम मिला, जबकि 1 नंबर का प्याज 11 से 12 रुपए किलो बेचा गया। वहीं 2 नंबर के प्याज को 9 से 10 रुपए, 3 नंबर के प्याज को 7 से 8 रुपए व 4 नंबर के प्याज को 5 से 6 रुपए किलो बेचा गया। जबकि मंडी में आया सफेद प्याज को 10 से 12 रुपए किलो का दाम मिला।

    मंडी में आया 21245 बोरी आलू

    तोतलानी के मुताबिक, मंगलवार को मंडी में 21 हजार 245 बोरी आलू की आवक हुई। जिसमें से यूपी से आए वीआईपी दर्जे के आलू को थोक में 11 से साढ़े 13 रुपए किलो का दाम मिला। जबकि हायब्रिड दर्जे का आलू 11 से 12 रुपए किलो बेचा गया। वहीं गुजरात से आए आलू को थोक में 4 से 15 रुपए किलो का दाम मिला। जबकि महाराष्ट्र के आलू को 9 से 12 रुपए किलो बेचा गया। इसी तरह मध्य प्रदेश से आए आलू को थोक में 4 से 17 रुपए किलो का दाम मिला।

    लहसुन के दाम स्थिर

    आलू-प्याज की तरह ही मंडी में लहसुन की आवक भी अब बढ़ने लगी है। मंगलवार को मंडी में 5 हजार 831 बोरी लहसुन की आवक हुई। इसके पहले मंडी में लगभग 3500 बोरी लहसुन की आवक हो रही थी। आवक बढ़ने के बावजूद थोक में इसकी कीमत स्थिर है। हमेशा की तरह मंगलवार को भी वीआईपी दर्जे के लहसुन को थोक में 55 से 60 रुपए किलो बेचा गया। जबकि 1 नंबर के देसी लहसुन को 45 से 50 रुपए व 2 नंबर के देसी लहसुन को 30 से 40 रुपए किलो का दाम मिला। वहीं उटी से आए वीआईपी दर्जे के लहसुन को थोक में 90 से 100 रुपए किलो बेचा गया।