नियमों का पालन कर मनाएं धार्मिक त्यौहार

  • पुलिस ने बैठक कर लोगों को कोरोना खतरे से किया सजग

भिवंडी. आगामी नवरात्रि उत्सव, बतकम्मा, दशहरा, दीपावली त्यौहार के मद्देनजर को देखने हुए भिवंडी शासन द्वारा जारी दिशा निर्देश को नागरिकों तक पहुंचाने व पालन कराए जाने हेतु पुलिस हर सम्भव कोशिश कर रही है.  आगामी नवरात्रि उत्सव सहित अन्य त्यौहार में नागरिकों की स्वास्थ्य सुरक्षा हेतु शासन नें दिशा-निर्देश जारी किया है.

दिशानिर्देश को नागरिकों तक पहुंचाने के लिये भिवंडी पुलिस उपायुक्त राजकुमार शिदें के मार्गदर्शन में विभिन्न पुलिस थानों में पुलिस अधिकारी गणमान्य नागरिकों की बैठक कर महामारी नियंत्रण हेतु जरूरी नियम कानून अनुपालन पर जोर दे रहे हैं. उक्त क्रम में शहर पुलिस स्टेशन वरिष्ठ पुलिस सुभाष कोकाटे की अध्यक्षता में मार्गदर्शन बैठक का आयोजन किया गया, जिसमें करीब 35 नवदुर्गा मंडलो के अध्यक्ष व बतकम्मा देवी आयोजक उपस्थित थे. उक्त मौके पर शहर पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक सुभाष कोकाटे ने नवदुर्गा मंडल पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना संकट को देखते हुए नवरात्रि उत्सव बेहद सादगी तरीके से मनाये.

गरबा कार्यक्रम के आयोजन पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध

कोरोना संक्रमण का खतरा बना हुआ है. सार्वजनिक दुर्गा मंडल स्थानीय प्रशासन द्वारा जारी दिशानिर्देश का पालन करते हुए अनुमति लेकर ही दुर्गा प्रतिमाएं स्थापित करें. गरबा कार्यक्रम के आयोजन पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध है. सार्वजनिक पंडालों में 4 फुट तथा घर में 2 फुट की नवदुर्गा  की प्रतिमा स्थापित करें तथा विसर्जन घर पर ही करें. कोरोना प्रसार बचाव हेतु नवदुर्गा पंडालों में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन कदापि न करें.

महामारी संकटकाल में रक्तदान, मास्क, सेनेटाईजर आदि के वितरण जैसे कार्यक्रम का आयोजन किया जाना चाहिए.पंडाल में आरती करते हुए सोसल डिस्टेंसिंग का पालन करने के साथ मास्क लगाना अनिवार्य है. ध्वनि प्रदूषण नियम का पालन करें, प्रशासन द्वारा जारी नियम के तहत ही दुर्गा पंडाल की स्थापित करें. पंडाल में जन्तुनाशक दवाइयां का छिड़काव तथा थर्मल स्कनिंग की व्यवस्था करें. देवी आगमन व विसर्जन के समय जुलूस निकाले जाने पर पाबंदी है.पुलिस अधिकारी कोकाटे नें कहा कि जीवन सुरक्षा बेहद जरूरी है. खुद व परिजनों के स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए नियमों का अनुपालन कर प्रशासन का सहयोग करें. बैठक में मौजूद सभी लोगों ने कोरोना संकटकाल के मद्देनजर शासन द्वारा निर्देशित नियमों के अनुपालन का भरोसा दिया है.