सोशल डिस्टेंसिंग के साथ छठ व्रतियों ने मनाया छठ

  • 36 घंटे की कठिन तपस्या के बाद खोला व्रत

ठाणे. कोरोना के बीच कार्तिक मास शुक्ल पक्ष की चतुर्थी (नहाय-खाय) से शुरू हुआ छठ पर्व सप्तमी तिथि में सूर्य उदय के साथ ही शनिवार को संपन्न हो गया. व्रतियों ने उगते सूरज को अर्घ्य देकर घाटों पर पूजा अर्चना कर 36 घंटे की कठिन तपस्या के बाद व्रत खोला. पुत्र की लंबी आयु और आस्था का प्रतिबिंब माना जाने वाला डाला छठ का आखिरकार कई महिलाओं ने अपना व्रत तोड़कर अन्न ग्रहण किया.

इससे पहले शुक्रवार को महिलाओं ने अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्‍य देकर धूमधाम से पूजा अर्चना की थी. शाम चार बजे से ही घाटों और तालाबों पर महिलाएं पूजा के लिए पहुंच गईं और शाम ढलने के बाद सूर्य को अर्घ्‍य देकर ही लौटीं. छठ पर्व को लेकर शहर धूम रही, लेकिन कोरोना के कारण सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित नहीं किये गए. छठ व्रतियों ने शुक्रवार की शाम अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य अर्पित किया, वहीं शनिवार की सुबह उदीयमान सूर्य को अर्घ्य दिया. ठाणे में छठ घाट पर व्रतियों के अलावा एक व्यक्ति ही उपस्थित नजर आया. जबकि परिवार के अन्य सदस्यों की भीड़ नहीं उमड़ी. जोकि राहत की बात दिखाया दी. वहीं, महिलाएं छठ गीत गा रही थी, इससे पूरी तरह छठमय बना रहा.

पालकमंत्री के आदेश के बाद की गई व्यवस्था 

वैसे पहले छठ व्रतियों में असमंजस की स्थिति देखी गई कि वे कहां अपना व्रत पूरा करेंगे, क्योंकि किसी भी तालाब और घाट पर कोई व्यवस्था स्थानीय प्रशासन द्वारा नहीं की थी. लेकिन इसी बीच कुछ लोगों ने पालकमंत्री एकनाथ शिंदे, महापौर नरेश म्हस्के और मनपा आयुक्त डॉ. विपिन शर्मा से मुलाकात कर घाटों और तालाबों पर व्यवस्था की उपलब्धता की मांग की थी. जिसे ध्यान में रखते हुए पालकमंत्री के निर्देश पर मनपा आयुक्त डॉ. विपिन शर्मा ने शहर के तालाबों और घाटों पर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ और मास्क लगाने की अनिवार्यता पर त्यौहार को मनाने की अनुमति दी.

इन तालाबों पर भक्तों ने की पूजा 

ठाणे महानगर पालिका की तरफ से व्रत धारियों को पूजा में किसी भी प्रकार का विघ्न न आए इसके लिए ठाणे शहर के उपवन तालाब, कोलशेत विसर्जन महाघाट, रायलादेवी तालाब, दत्तघाट (मासुंदा तालाब), कोपरी खाडी, पारसिक विसर्जन महाघाट, पारसिक रेतीबंदर, तुर्फेपाडा इन स्थानों पर आवश्यक सभी व्यवस्था की गई थी. जहां पर भक्तों ने बेहिचक पूजा अर्चना कर छठ माता को प्रसन्न किए. 

पालकमंत्री एकनाथ शिंदे और मनपा आयुक्त विपिन शर्मा ने भी किया तालाब का दौरा 

छठ व्रतियों को किसी प्रकार के परेशानी का सामना न करना पड़े और तैयारियों का जायजा खुद पालकमंत्री एकनाथ शिंदे और मनपा आयुक्त डॉ. विपिन शर्मा ने दौरा कर जायजा लिया. इस दौरान उपायुक्त संदीप मालवी भी मौजूद थे. पालकमंत्री शिंदे ने रायलादेवी तालाब पर पहुंच कर छठ व्रतियों को शुभकामनाएं व बधाई दी. इस दौरान उनका स्वागत रायलादेवी तालाब छठी मैया पूजा सेवा समिति के अध्यक्ष कुलदीप तिवारी, संजय झा, भोला गिरी. प्रगति व उन्नति अस्पताल के संचालक शैलेश सिंह, शिवसेना उप विभाग प्रमुख दिनेश मलपे, सहित बड़ी सांख्य में लोग मौजूद थे. वहीँ उपवन तालाब पर छठ व्रतियों के लिए रूद्र प्रतिष्ठान के संस्थापक धनंजय सिंह ने व्यवस्था की थी. जबकि तालाब की साफ-सफाई शिव शांति प्रतिष्ठान के विनय सिंह और उनके सहयोगियों ने किया.

छठ पूजा का आयोजन छठ पूजा उत्सव समिति के बैनर तले आयोजक संजय सिंह, रवि सिंह, शैलेन्द्र सिंह आदि द्वारा कोलशेत घाट पर आयोजित किया गया था. इस दौरान कापुरबावडी के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक अनिल देशमुख ने दौरा किया.  छठ पूजा उत्सव समिति कोलशेत ने पुलिस प्रशासन, अग्निशामक दल तथा ठाणे महानगर पालिका का तैयारियों और व्यवस्था के लिए विशेष आभार व्यक्त किया.