File Photo
File Photo

  • अक्टूबर से शुरू होने वाली है परीक्षा   

बदलापुर. बदलापुर पूर्व और पश्चिम परिक्षेत्र के लाखों नागरिक पिछले महीने से शहर में जारी बिजली की आंख मिचौली से परेशान और तंग आ चुके हैं. अक्टूबर के पहले सप्ताह से इंजीनियरिंग सहित अन्य संकाय की फायनल परीक्षाएं शुरू होने जा रहीं है. चूंकि परीक्षा ऑनलाइन आयोजित की जाएंगी. इसलिए छात्रों को परीक्षा अवधि के दौरान बिजली आपूर्ति शिकार न होना पड़े, इस बात का ध्यान रखे‍ जाने की मांग शिवसेना के शहर प्रमुख और पूर्व नपा अध्यक्ष वामन म्हात्रे ने शहर को बिजली आपूर्ति करने वाले महकमे महावितरण से की है.

इस संदर्भ में स्थानीय पत्रकारों से बातचीत करते हुए शिवसेना शहर प्रमुख वामन म्हात्रे ने बताया कि बार-बार बिजली आपूर्ति खंडित होने से नागरिकों, दुकानदारों, कंपनी वालों के साथ ही कोरोना के कारण ‘वर्क फ्रॉम होम’ काम करने वाले हजारों नोकरी पेशा लोगों, ऑनलाइन पढ़ाई करने वाले बच्चे प्रभावित होते है. वामन म्हात्रे ने कहा कि 1 अक्टूबर से इंजीनियरिंग और अन्य फैकल्टी की सालाना परीक्षा शुरू होने वाली है. कोरोना के कारण छात्र-छात्राओं को घर बैठकर ऑनलाइन परीक्षा देनी है. इसलिए सालाना परीक्षा के दौरान बिजली खंडित न हो इसका विशेष ख्याल महावितरण को रखना होगा.

वैकल्पिक व्यवस्था का इंतजाम करना होगा

थोडी लापरवाही से बच्चों की साल बर्बाद हो सकती है. ऐसा न हो इसलिए महावितरण महकमे को परीक्षा के दौरान बिजली से संबंधित कोई तकनीकी खराबी आने पर वैकल्पिक व्यवस्था का इंतजाम करना होगा. शिवसेना शहर प्रमुख म्हात्रे के अनुसार पिछले कुछ महीनों में बदलापुर पूर्व, पश्चिम और ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति बार-बार खंडित होती है.  बदलापुर पूर्व के खासकर कात्रप और शिरगांव  के साथ-साथ शहर के पश्चिम में मांजर्ली और  बदलापुर गांव में कुछ अधिक लोग परेशान है.