कोविड-19 मास स्क्रीनिंग से जुड़ा मामला

श्रेय नहीं लेने की अपील

नवी मुंबई. कोरोना की रोकथाम करने के लिए मनपा के द्वारा ‘कोविड-19 मास स्क्रीनिंग’ अभियान शुरू किया गया है. जिसके तहत मनपा के सभी 8 विभागों में कोरोना की जांच की जा रही है. मनपा के इस अभियान का श्रेय राजनीतिक दलों से जुड़े कुछ लोग उठाने में लगे हैं. मनपा के काम का श्रेय राजनीतिक दलों के लोग ना उठाएं. ऐसी अपील मनपा आयुक्त ने की है.

 गौरतलब है कि नवी मुंबई महानगर पालिका के द्वारा कंटेनमेंट जोन में कोरोना की जांच के लिए विशेष रूप से ‘कोविड-19 मास स्क्रीनिंग’ अभियान शुरू किया गया है. मनपा आयुक्त अण्णासाहेब मिसाल के मार्गदर्शन में इस अभियान को 26 मई 2020 से शुरू किया गया है.

निजी अस्पताल कर रही सहयोग

बतादें कि नवी मुंबई महानगर पालिका के स्वास्थ्य विभाग के द्वारा शुरू की गई ‘कोविड 19 मास स्क्रीनिंग’ के काम में डॉ. डीवाई पाटिल व तेरणा अस्पताल के डॉक्टरों की मदद ली जा रही है. इस अभियान के तहत अब तक 30 हजार से अधिक लोगों की जांच की गई है. इस जांच के दौरान कोरोना के लक्षण वाले लोगों के लार का नमूना भी लिया जा रहा है. 

मनपा आयुक्त को मिली शिकायत

 ‘कोविड 19 मास स्क्रीनिंग’ के ठिकानों पर राजनीतिक से जुड़े कुछ लोग फोटो सेशन करने के लिए के स्वास्थ्य कर्मियों के साथ वाद विवाद करते हैं. इसकी शिकायत मनपा के कर्मचारियों ने आयुक्त के पास की थी.राजनीतिक दलों से जुड़े लोगों के इस रवैया मनपाकर्मियों का मनोबल गिर सकता है. इस बात को ध्यान में रखते हुए मनपा आयुक्त मिसाल ने राजनीतिक दलों से जुड़े लोगों से मास स्क्रीनिंग के ठिकानों पर फोटो सेशन नहीं कराने की अपील की है.