99 employees coming late will be cut for half a day

  • आयुक्त डा. पंकज आशिया से भाजपा वरिष्ठ नगरसेवक निलेश चौधरी ने की शिकायत

भिवंडी. धामनकर नाका स्थित पटेल कम्पाउंड में जमींदोज जिलानी इमारत प्रकरण में क्षेत्रीय बीट निरीक्षक सुनील बगल की भूमिका बेहद अहम है. बीट निरीक्षक द्वारा समय पूर्व धोखादायक इमारत नहीं खाली कराए जाने से ही दर्जनों रहिवासियों की जान चली गई है. उक्त मुद्दे को बेहद गंभीर करार देते हुए मनपा वरिष्ठ भाजपा नगरसेवक नीलेश चौधरी नें मनपा आयुक्त डा.पंकज आसिया को शिकायत कर बीट निरीक्षक के तत्काल निलंबन की मांग की है अन्यथा मनपा मुख्यालय के समक्ष अनशन किये जाने की चेतावनी दिया है.

गौरतलब हो कि मनपा आयुक्त डा. पंकज आसिया को दिए शिकायती पत्र में भाजपा वरिष्ठ नगरसेवक नीलेश चौधरी ने बताया है कि पटेल कम्पाउंड जिलानी इमारत जमींदोज प्रकरण हेतु प्रमुख रूप से बीट निरीक्षक सुनील बगल पूर्णतया जिम्मेदार हैं. उक्त धोखादायक इमारत को मनपा प्रशासन द्वारा 2 बार रहिवासियों से खाली कराए जाने की नोटिस दिए जाने के बावजूद प्रभाग क्रमांक 3 में कार्यरत क्षेत्रीय बीट निरीक्षक सुनील बगल ने जिम्मेदारी का निर्वहन नहीं किया, अपितु बेहद लापरवाहीपूर्ण तरीके से कार्य को अंजाम दिया, जिससे दर्जनों लोगों को जान से हाथ धोना पड़ा है.

वरिष्ठ नगरसेवक चौधरी के अनुसार, कामतघर में नन्द कुमार चौगुले की इमारत को 4 वर्ष पूर्व धोखादायक घोषित किया गया है. बावजूद क्षेत्रीय बीट निरीक्षक सुनील बगल द्वारा इमारत के रहिवासियों से खाली नहीं कराया जा रहा है. भाजपा वरिष्ठ नगरसेवक नीलेश चौधरी ने लापरवाह बीट निरीक्षक सुनील बगल को फौरन निलंबित किये जाने की मांग मनपा आयुक्त डा. पंकज आसिया से की है अन्यथा उक्त मुद्दे को लेकर मनपा प्रशासन की कार्यप्रणाली के खिलाफ अनशन की चेतावनी दिया है.