Disregarding the instructions of the government in Bhiwandi

    भिवंडी. पावरलूम नगरी भिवंडी (Bhiwandi) में जिलाधिकारी राजेश नार्वेकर द्वारा कोरोना संक्रमण (Corona Infection)नियंत्रण के लिए जारी तमाम दिशा-निर्देशों की अवहेलना नागरिकों द्वारा की जा रही है। शहर स्थित तमाम सब्जी मार्केट, बाजार सहित दुकानों में कोरोना निर्देशों का खुल्लम- खुल्ला उल्लंघन हो रहा है। शासन की बार-बार अपील के बावजूद भिवंडीकर (Bhiwandikar) निर्देशों की धज्जियां उड़ाते देखे जा रहे हैं। शहर के जागरूक नागरिकों ने महानगरपालिका कमिश्नर डा. पंकज आसिया और पुलिस उपायुक्त योगेश चव्हाण से जीवन सुरक्षा के मद्देनजर कोरोना निर्देशों का अनुपालन कराए जाने के लिए कड़क कदम उठाए जाने की अपील की है। 

    गौरतलब है कि भिवंडी में कोरोना नियंत्रण एवं महानगरपालिका प्रशासन के कुशल नियोजन की दृष्टि से जिलाधिकारी राजेश नार्वेकर द्वारा अनलॉक में भिवंडी शहर को लेवल 3 में रखा गया है। 

    रात 11 बजे तक खुली रहती हैं दुकानें

    शासन के निर्देशानुसार अत्यावश्यक सेवाओं को छोड़कर दुकानें एवं व्यापारिक प्रतिष्ठान को सुबह 7 से शाम 4 बजे  तक ही खोलने की मंजूरी प्रदान किए जाने के बावजूद दुकानदार एवं तमाम व्यापारिक प्रतिष्ठान के संचालक निर्देशों को ठेंगा दिखाते हुए समस्त व्यापारिक प्रतिष्ठान को रात 10-11 बजे तक खुले रखते हैं। शहर में तमाम होटल, पान पट्टी रात्रि 12 बजे तक खुले रहते हैं।भिवंडी शहर में शासन के नियमों की धज्जियां उड़ रही हैं जिसका प्रमुख कारण मनपा प्रशासन एवं पुलिस विभाग की लापरवाही भी है। 

    नहीं कर रहे नियमों का पालन

    लोगों  का कहना है कि मनपा प्रशासन एवं पुलिस विभाग के बीच शासन के निर्देशों का अनुपालन कराए जाने के लिए तालमेल का पूर्णतया अभाव है। अनलॉक के दौरान प्रशासनिक विभागों में तालमेल का अभाव होने का फायदा शहरवासी उठा रहे हैं। शहर स्थित सब्जी मार्केट, तीन बत्ती, मंडई, पद्मा नगर, कामतघर, अंजुर फाटा, गुलजार नगर, शांतिनगर आदि व्यस्ततम क्षेत्रों में लोग बगैर मास्क एवं सोशल डिस्टेंसिंग का उलंघन करते हुए घूमते दिखाई पड़ रहे हैं। अधिसंख्य दुपहिया वाहन चालक मुंह पर बगैर मास्क लगाए ट्रैफिक पुलिस कर्मियों के सामने से फर्राटे से जाते दिखाई पड़ते हैं। पुलिस विभाग की ढिलाई की वजह से लोगों के हौसले बुलंदी पर हैं। सूत्रों की माने तो अनलॉक में कोरोना निर्देशों के अनुपालन की बड़ी जिम्मेदारी मनपा एवं पुलिस विभाग की है बावजूद दोनों विभागों में कोई तालमेल नहीं होने का फायदा लोग उठा रहे हैं।

    निर्देशों का पालन बेहद जरूरी : डॉ. खरात

    नागरिकों का कहना है कि अनलॉक के दौरान भिवंडी में कोरोना नियंत्रण निर्देशों का कोई पालन नहीं हो रहा है। भविष्य में अगर कोरोना का ग्राफ बढ़ता है तो शहरवासियों के साथ ही साथ प्रशासन भी बराबर का जिम्मेदार होगा। मनपा एवं पुलिस विभाग को शासन के निर्देशों के अनुपालन के लिए कड़ाई किया जाना बेहद जरूरी है अन्यथा मनपा प्रशासन की कड़ी मेहनत एवं कुशल उपचार नियोजन व्यवस्था से  भिवंडी में विगत दिनों बेहद कम हुए कोरोना ग्राफ को बढ़ने में देर नहीं लगेगी। आशंका है कि शहर के कुछ लापरवाह लोगों की वजह से समूचे शहर को खामियाजा भुगतना पड़ सकता है। उक्त संदर्भ में मनपा मुख्य वैद्यकीय अधिकारी डॉक्टर के. आर. खरात का कहना है कि भिवंडी से कोरोना खत्म नहीं हुआ है। कोरोना की तीसरी लहर की आशंका व्यक्त की जा रही है। शासन के निर्देशों का पालन बेहद जरूरी है। जीवन सुरक्षा के लिए मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाना बेहद जरूरी है। लापरवाही से कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ सकते हैं।