Diva-Vasai train should start on the lines of Mumbai local, passenger organizations demand from top

    भिवंडी. भिवंडी पावरलूम नगरी (Bhiwandi Powerloom City) स्थित भिवंडी रोड स्टेशन (Bhiwandi Road station) से दिवा – वसई (Diva-Vasai) तक जाने वाली एकमेव रेल सेवा को बंद हुए करीब 16 माह हो गए है। रेल मंत्रालय (Ministry of Railways) द्वारा कोरोना संक्रमण की शुरुआत 22 मार्च से ही दिवा-वसई रेल सेवा को बंद कर दिया गया है। अनलॉक (Unlock) के दौरान सरकार द्वारा मुंबई लोकल सेवा (Local Service) को शुरू किया गया है बावजूद दिवा वसई रेल सेवा शुरू नहीं की गई है। यात्री संगठनों द्वारा मुंबई लोकल की तर्ज पर दिवा-वसई रेल सेवा को भी शुरू किए जाने की मांग मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे एवं रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से की है।

    गौरतलब है कि वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण की शुरुआत से ही सरकार द्वारा महामारी प्रसार नियंत्रण हेतु ऐतिहासिक कदम उठाते हुए मुंबई लोकल सेवा सहित दिवा- वसई यात्री ट्रेन को भी बंद कर दिया गया था। हैरतअंगेज है कि सरकार द्वारा अनलॉक की घोषणा किए जाने के उपरांत मुंबई लोकल को शासन के निर्देशों के तहत चलाए जाने की मंजूरी दी गई बावजूद दिवा-वसई को जोड़ने वाली एकमेव रेल सेवा को अभी तक शुरू नहीं किया गया है। अनलॉक घोषित होने के बाद भिवंडी से दिवा-वसई जाने वाले लाखों यात्रियों की आशा पर रेल सेवा नहीं शुरू होने से पानी फिर गया है।

    भिवंडीकरों के साथ हो रहा सौतेला व्यवहार

    भिवंडी से दिवा – वसई ट्रेन से यात्रा कर मुंबई, सूरत आदि में रोजगार, व्यापार करने वाले जुल्फिकार अली, प्रणय राय, अमित सिंह, अशफाक अंसारी, बलराम सिंह, राम मनोहर शाह, तेज बहादुर पाल, असरफी यादव आदि का कहना है कि केंद्र एवं राज्य सरकार भिवंडी के लाखों लोगों के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। सरकार द्वारा मुंबई लोकल शुरू किया गया लेकिन दिवा-वसई रेल सेवा को शुरू करने में आनाकानी की जा रही है। आश्चर्यजनक है कि कोरोना संक्रमण प्रसार की बात को कह कर दिवा- वसई ट्रेन नहीं शुरू की गई जबकि मुंबई लोकल शुरू होने से कोरोना संक्रमण नहीं बढ़ेगा क्या ? यह गंभीर चिंता का विषय है। सरकार को कोरोना नियंत्रण हेतु जरूरी कदम उठाना चाहिए। यात्री संगठनों ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे सहित नवनियुक्त रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से लाखों यात्रियों की सुविधा हेतु दिवा-वसई रेल सेवा को अविलंब शुरू किए जाने की मांग की है।